प्रेमपुरा दलित हत्याकांड:राजस्थान में बढ़ रही दलितों से दुष्कर्म व हत्या की घटनाएं आयोग के संज्ञान में 80 शिकायतें, करा रहे जांच: सांपला

हनुमानगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • राष्ट्रीय एससी आयोग ने ली मामले की जानकारी

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष विजय सांपला ने पिछले कुछ समय से राजस्थान व बीकानेर संभाग में दलित से दुष्कर्म और हत्या की आपराधिक घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। फरवरी से लेकर अब तक अकेले राजस्थान की 70-80 घटनाओं की शिकायत हमें मिली है जिनकी आयोग जांच करवा रहा है।

सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत करते हुए आयोग अध्यक्ष ने कहा कि पीलीबंगा के प्रेमपुरा में दलित की हत्या अमानवीय है। मृतक का शव उसके घर के बाहर फेंकने के बाद मृतक के सीने पर मोबाइल रखने के बाद भी दरिंदगी की गई। इससे पहले घटना का वीडियो बनाकर वायरल किया गया। उन्होंने कहा कि वे पीड़ित परिवार से मिले हैं जिनको न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया गया।

नियमानुसार 8.25 लाख रुपए की सहायता राशि में से 50 प्रतिशत राशि दी जा चुकी है। वहीं परिवार के एक सदस्य को नौकरी और बुजुर्ग माता-पिता को पांच हजार रुपए पेंशन का प्रावधान है जिसके लिए प्रशासन को निर्देश दिए हैं। इस केस में चालान होने के बाद शेष सहायता राशि दी जा सकेगी।

उन्होंने कहा कि अकेले बीकानेर संभाग की बात करें तो संभाग में इस तरह के 14 मामले आयोग के संज्ञान में आए हैं जिसको लेकर रेंज आईजी और संभागीय आयुक्त को निर्देश दिए हैं। प्रेमपुरा के जगदीश की हत्या मामले में किसी तरह का मिसमैच के सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी तक ऐसी कोई बात सामने नहीं आया लेकिन परिजनों का कहना है कि जिन लोगों की मुख्य भूमिका रही है उन लोगों को छोड़ दिया है।

परिवार ने दो-तीन नाम बताए हैं जिनको जांच में शामिल करने के लिए पुलिस को कहा गया है। पुलिस ने जिन तीन आरोपियों को क्लीन चिट दी है उनकी संलिप्तता की दुबारा जांच करवाई जाए और इसमें एक मास्टर माइंड को लेकर गहनता से जांच करने को कहा गया है।

उन्होंने कहा कि हत्या का कारण प्रेम प्रसंग हो या रुपयों के लेनदेन का इससे कोई लेनादेना नहीं है, लेकिन किसी को मारकर उसका वीडियो बना अमानवीयता का अधिकार किसी को नहीं है। इसी बात पर आयोग ने संज्ञान लिया है।

प्रेमपुरा में पीड़ित परिवार से मिला राष्ट्रीय एससी आयोग का दल, पूर्ण न्याय का दिलाया भरोसा

प्रेमपुरा दलित हत्याकांड को लेकर राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन विजय सांपला व सदस्य सुभाष रामनाथ पारधी बुधवार को प्रेमपुरा में पीड़ित परिवार से मिले। इस दौरान सांपला ने मृतक जगदीश के दादा, पिता व परिवार की महिलाओं से मिलकर संवेदनाएं व्यक्त कीं और पीड़ित परिवार को प्रकरण के तहत पूरा न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया।

सांपला ने कहा कि इस वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी। इस मौके पर जिला कलेक्टर नथमल डिडेल, एसपी प्रीति जैन, एसडीएम रणजीत कुमार, तहसीलदार बाबूलाल, एएसपी जस्सा राम बोस, सीओ रावतसर रणवीर मीणा, थानाधिकारी इंद्र कुमार वर्मा सहित पुलिस व प्रशासन के अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। इससे पहले आयोग अध्यक्ष व सदस्य से पूर्व मंत्री डॉ. रामप्रताप, बलवीर बिश्नोई, कैलाश मेघवाल, े नारायण नायक आदि ने सर्किट हाउस में मुलाकात कर मामले को लेकर फीडबैक दिया।

खबरें और भी हैं...