पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लापरवाही:स्कूलों के अंदर ‘धूम्रपान निषेध’ और बाहर 100 मीटर दायरे में ‘तम्बाकू युक्त उत्पाद बिक्री निषेध क्षेत्र’ के बोर्ड लगेंगे

हनुमानगढ़4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

स्कूली बच्चों पर धूम्रपान को लेकर विपरीत प्रभाव ना पड़े इसलिए सभी निजी व सरकारी स्कूलों के बाहर धूम्रपान निषेध के साइन बोर्ड लगाए जाएंगे। इस संबंध में जिला शिक्षा विभाग द्वारा हाल ही में आदेश जारी किए गए हैं। जिला शिक्षा अधिकारी हंसराज जाजेवाल ने बताया कि इससे पहले भी स्कूलों के सामने गुटखा की बिक्री प्रतिबंधित थी। इस नियम के अंतर्गत तंबाकू, बीड़ी, सिगेरट, पान आदि का सेवन करना दंडनीय अपराध है।

इसलिए स्कूलों के अंदर उचित स्थानों पर धूम्रपान निषेध क्षेत्र लिखवाया जाएगा। इस तरह के बोर्ड स्कूलों के सामने लगाए जाएंगे। इसके साथ ही स्कूल की 100 मीटर की सीमा में “तम्बाकू युक्त उत्पाद बिक्री निषेध क्षेत्र” लिखवाना होगा। उन्होंने बताया कि स्कूलों में राष्ट्रीय सेवा योजना एवं स्काउट के जरिए नशे के दुष्प्रभावों के प्रति युवाओं एवं आमजन को जागरूक करने के लिए विभिन्न कार्यक्रम जैसे चित्रकला, निबंध प्रतियोगिता, भाषण प्रतियोगिताएं भी आयोजित करवाई जाएंगी। अगर इस दिशा में कोई भी स्कूल लापरवाही बरतता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...