गोलूवाला की ब्रांच का मामला:फर्जी केसीसी बना 3.53 करोड़ रुपए का गबन मामले में 7 वर्ष बाद पत्नी गिरफ्तार, जेल भेजा, आरोपी महिला बिहार की रहने वाली

हनुमानगढ़15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गोलूवाला के एसबीबीजे बैंक में सात वर्ष पुराने साढ़े तीन करोड़ 53 लाख रुपए के गबन मामले में फरार महिला को पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार किया। महिला बिहार के गया जिले की रहने वाली है और मास्टरमाइंड बैंक के सहायक मैनेजर की पत्नी है। पुलिस ने उसे पूछताछ के बाद एसीबी कोर्ट श्रीगंगानगर में पेश कर जेल भिजवा दिया।

सीओ सिटी प्रशांत कौशिक ने बताया कि वर्ष 2014 में गोलूवाला की एसबीबीजे ब्रांच (वर्तमान में एसबीआई)में सहायक मैनेजर केके सिंह ने फर्जी तरीके से केसीसी लोन के कई खाते खोलकर 3.53 करोड़ रुपए अपनी पत्नी व साले के खातों में ट्रांसफर कर दिए थे। इसके बाद यह रकम शेयर मार्केट में लगा दी थी जिसके बाद यह पैसा डूब गया। बैंक के उच्चाधिकारियों को जब मामले का पता चला तो केस दर्ज करवाया गया जिस पर सहायक मैनेजर कृष्ण कुमार सिंह को गिरफ्तार कर चालान पेश किया।

मास्टर माइंड आरोपी केके सिंह को कोर्ट सजा सुना चुकी है। उसकी पत्नी वंदना सिंह निवासी गया बिहार इस मामले में पुलिस बचने के लिए ठिकाने बदलकर और अपनी पहचान छिपाकर छिपती रही जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया जहां से जेल भेज दिया गया।

खबरें और भी हैं...