पशु प्रेम:4 दिन पहले सड़क पर मिला घायल ऊंट, वहीं हो रहा इलाज, गर्मी से बचाने को टैंट लगाया, रोज लग रही ड्रिप

केसरीसिंहपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • केसरीसिंहपुर के युवा 4 दिन से 24 घंटे कर रहे हैं एक घायल ऊंट की देखभाल

आज पढ़िए पशु प्रेम की कहानी। दरअसल एक ऊंट ‘रेगिस्तान का जहाज’ केसरीसिंहपुर क्षेत्र में 4 दिन पहले नाले में गिरकर घायल हो गया था। घायल ऊंट को देखकर उसका मालिक भी उसको वहीं छोड़कर चल गया। घायल ऊंट की जानकारी शाह सतनाम जी ग्रीन एस वेलफेयर फोर्स विंग के सदस्यों को लगी। उन्होंने घायल ऊंट को नाला से निकालकर उसका इलाज शुरू करवाया।

सेवादार राजेंद्र शर्मा इंसा ने बताया कि 4 दिन पहले हमें सूचना मिली कि कमीनपुरा रोड पर एक ऊंट नाला में फंसा हुआ है, जो घायल अवस्था में था। इस पर हमारी टीम मौके पर पहुंची। रात का वक्त था, सबसे पहले हमने घायल ऊंट को नाले से निकाला। इस पुनीत कार्य में हमारा सहयोग पालिका चेयरमैन कालूराम ने भी किया।

हम पशु चिकित्सक को भी मौके पर लेकर गए थे। वहां तुरंत उन्होंने घायल ऊंट का इलाज शुरू कर दिया। हमने कोशिश की कि ऊंट को पशु अस्पताल में लेकर जाएं। उसके लिए जेसीबी भी बुला ली गई थी, लेकिन कामयाब नहीं हो पाए। निर्णय हुआ कि ऊंट का इलाज यहीं पर होगा। इसके लिए हमने सड़क किनारे ही टैंट लगा दिया, ताकि ऊंट को गर्मी न लगे ।

टीम के सेवादारों की ड्यूटी लगाई कि 2-2 घंटे में ऊंट की देखभाल के लिए कोई न कोई मौजूद रहेगा। 4 दिन से घायल ऊंट को दिन में 3 बार ड्रिप लग रही है। पशु चिकित्सक योगेश का कहना कि ऊंट बहुत ही कमजोर हालात में था। अब उसकी हालत में काफी सुधार हुआ है।

टीम के सदस्य

जीतू इंसा, अश्वनी इंसा, जितेंद्र इंसा और जोंटी इंसा।

खबरें और भी हैं...