20वां वार्षिकोत्सव:11 घंटे की रसमय राम नाम धारा बही, मिठाई व फलाें की 30 सवाणमियाें का भाेग लगाकर प्रसाद बांटा

श्रीगंगानगर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सियाराम जय जय सिया राम सिया राम जय राम जय जय राम... रसमय राम नाम धारा में झूमते नाचते गाते हुए लाेग। माैका था रविवार काे अग्रसेन चाैक स्थित रामेश्वरम सेवा समिति की ओर से संचालित शिव मंदिर के 20वें वार्षिकाेत्सव का। मंदिर में रविवार काे सुबह जैसे ही श्री सालासर बालाजी भजनी संघ द्वारा सुबह 9 बजे से 11 घंटे की रसमय राम नाम धारा शुरू की गई ताे पूरा वातावरण भक्तिमय हाे गया। इससे पहले मंदिर में सुबह गणेश पूजन के साथ धार्मिक कार्यक्रम की शुरुआत की गई। इस दाैरान मंदिर में माथा टेकने के लिए श्रद्धालुओं का देर रात तक तांता लगा रहा। भगवान काे भाेग लगाया गया। इसके बाद ब्राह्मणाें काे भाेजन करवाया गया और श्रद्धालुओं में भंडारे का प्रसाद बांटा गया। कार्यक्रम संयाेजक सीए पवन मित्तल ने बताया कि रविवार शाम 4:30 बजे तक करीब 3 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने भंडारे का प्रसाद ग्रहण किया। भंडारा वितरण की व्यवस्था जयकाे लंगर समिति ने संभाले रखी। उन्हाेंने बताया कि दिनभर में मिठाइयाें व फलाें की करीब 30 सवामणियाें का भाेग लगाकर श्रद्धालुओं में बांटा गया। इस माैके पर उमाशंकर मित्तल, तिलाेकचंद सिंघल, सुमित गर्ग, अमीलाल भादू उपस्थित रहे। पवन मित्तल ने बताया कि साेमवार सुबह 8:15 से 9:15 बजे तक सिद्धपीठ श्रीझांकी वाले बालाजी भजन मंडल ट्रस्ट भजन संकीर्तन करेंगी।

खबरें और भी हैं...