पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

लॉकडाउन खुलने के बाद बड़ा फैसला:नशीली गोलियों की तस्करी के दोषी को 15 वर्ष का कारावास, 1.50 लाख रुपए जुर्माना

श्रीगंगानगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सितंबर 2015 में श्रीगंगानगर में पकड़ा गया था

नशा तस्करी के जुर्म में न्यायालय ने एक व्यक्ति को 15 वर्ष के कठोर कारावास की सजा सुनाई है। ये फैसला गुरुवार को विशेष न्यायालय एनडीपीएस प्रकरण ने सुनाया। न्यायालय ने दोषी प्रेम कुमार पुत्र हरबंस लाल निवासी रवि चौक, पुरानी आबादी को 1.50 लाख रुपए जुर्माने से भी दंडित किया है। विशेष सरकारी वकील अजय बलाना के अनुसार दोषी जेल में ही है।

अभियोजन पक्ष के तथ्यों के अनुसार कोतवाली थाना पुलिस ने प्रेम कुमार को 4 साल 10 महीने पहले 780 नशीली गोलियों सहित गिरफ्तार किया था। तब उसके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया गया था।

कोतवाली में दर्ज मुकदमे के अनुसार 12 सितंबर 2015 को पुलिस को किसी मुखबिर ने इत्तला दी कि प्रेम कुमार पुत्र हरबंस लाल नशीली दवाओं की सप्लाई का काम करता है। वह ट्रक यूनियन पुलिया के पास किसी को नशीली दवाओं की सप्लाई देगा। उसके पास भारी मात्रा में नशीली दवाइयां मिल सकती हैं।

इस पर कोतवाली एसएचओ गणेश कुमार, प्रशिक्षु एसआई सुरेंद्र व अन्य पुलिस कर्मियों की टीम रवाना हुई तो ट्रक यूनियन पुलिया के समीप ऊधम सिंह चौक के समीप एक व्यक्ति हाथ में थैली लेकर आता दिखाई दिया। जो पुलिस को देखकर कर हड़बड़ा कर आदर्श पार्क की ओर जाने लगा।

इस पर उसे घेर कर जब हड़बड़ाने का की वजह पूछी तो उसने बताया कि उसके हाथ में जो थैली है, उसमें नाजायज नशीली गोलियां होना बताया। इस व्यक्ति की पहचान प्रेम कुमार पुत्र हरबंस लाल निवासी रवि चौक के रूप में हुई। इसके हाथ में पकड़ी थैली में नशीली गोलियों के 78 पत्ते थे। इसमें 10-10 गोलियां प्रत्येक पत्तों में थी।

पुलिस ने 780 गोलियां बरामद कर एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर प्रेम कुमार को गिरफ्तार किया। सरकारी वकील अजय बलाना के अनुसार न्यायालय के निर्देशानुसार अगर दोषी प्रेम कुमार ने जुर्माना राशि का भुगतान नहीं किया तो उसे 3 वर्ष अतिरिक्त कारावास भुगतना पड़ेगा।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर से संबंधित कार्यों को संपन्न करने में व्यस्तता बनी रहेगी। किसी विशेष व्यक्ति का सानिध्य प्राप्त हुआ। जिससे आपकी विचारधारा में महत्वपूर्ण परिवर्तन होगा। भाइयों के साथ चला आ रहा संपत्ति य...

और पढ़ें