पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना का कहर:तीन दिन में कोरोना के मिले 42 नए केस, जिले में पॉजिटिव रोगियों की संख्या हुई 109

श्रीगंगानगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक सप्ताह से बढ़ रहा है कोरोना का संक्रमण, स्वास्थ्य विभाग का टीकाकरण पर जोर, अब तक 1.18 लाख को लगी पहली डोज

कोरोना का संक्रमण एक बार फिर बढ़ रहा है। पिछले तीन दिनों में 42 नए कोरोना रोगी मिले। जिले में एक्टिव कोरोना रोगियों की संख्या भी शतक को पार कर चुकी है। वहीं, कोरोना पॉजिटिव रोगियों की संख्या 109 को चुकी है। तीन दिन पूर्व ये संख्या 94 थी। अब नए मिलने वाले कोरोना रोगियों के साथ एक्टिव रोगियों की संख्या भी बढ़ रही है।

डॉक्टर्स के अनुसार पिछले दो दिन होली त्योहार की वजह से बाजार में भीड़ रही। लोगों का मिलना जुलना भी रहा। इससे एक सप्ताह बाद पॉजिटिव रोगियों की संख्या बढ़ने की आशंका ज्यादा है। पूर्व में भी त्योहारी सीजन के दौरान ऐसा होता रहा है।

स्वास्थ्य विभाग ने अब कोरोना टीकाकरण से ज्यादा संख्या में लोगों को कवर करने पर जोर दिया है। जिले में मंगलवार तक 118115 को कोरोना टीके की पहली डोज लग चुकी है। तीन दिनाें में रविवार काे 12, साेमवार काे 15 और मंगलवार काे 15 नए राेगी मिले। बीते एक सप्ताह में शनिवार तक काेराेना राेगियाें की संख्या 73 हाे चुकी है। इस महीने अब तक 133 राेगी मिल चुके हैं। यानी एक दिन में औसतन राेगी संख्या 4 से ज्यादा रही। पिछले महीने फरवरी में महज 34 रोगी ही मिले थे। जिला अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव 8 राेगी भर्ती हैं। इसके अलावा 5 कोरोना संदिग्ध रोगियों को लक्षणों के आधार पर भर्ती किया गया है।

रिकवरी देरी से होने लगी, अब 97.81 प्रतिशत, कोरोना से बचाव के लिए एडवाइजरी की पालना करें, लापरवाह न बनें

कोरोना रोगियों की रिकवरी अब देरी से होने लगी है। दस दिन पहले जिले का रिकवरी प्रतिशत 99.0 प्रतिशत था। स्वास्थ्य विभाग की ओर से मंगलवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार श्रीगंगानगर जिले का रिकवरी प्रतिशत 97.81 प्रतिशत है। रोगियों की संख्या और संक्रमण की गंभीरता बढ़ने की वजह से पॉजिटिव रोगी पहले की अपेक्षा जल्द रिकवर नहीं हो पा रहे हैं। कोरोना सांस की तकलीफ भी दे रहा है।

जिला अस्पताल के कोविड प्रभारी डॉ. केएस कामरा के अनुसार इन दिनों में कोरोना केसेज बढ़ रहे हैं। होली के दाे दिनों के दौरान लोगों का एक दूसरे से समूहों में मिलना-जुलना खूब रहा है। अगर इन दिनों में किसी को आईएलआई के लक्षण हैं तो ऐसे लोगों को खुद को परिवार से अलग आइसोलेट कर लें। अगर तेज बुखार, गले की खराबी और सांस की तकलीफ है तो तुरंत डाॅक्टर से चेकअप करवाने के साथ कोविड की जांच के लिए सैंपल देना चाहिए। आइसोलेटेड रहने से सैंपल की जांच में पॉजिटिव आने पर अन्य लोगों का बचाव हो जाता है।

डाॅक्टर्स के अनुसार कोरोना से बचाव के लिए लोगों को एडवाइजरी की पालना करनी चाहिए। थोड़ी से लापरवाही खतरनाक हो सकती है। हर व्यक्ति को मुंह पर मास्क लगाना चाहिए। सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करनी चाहिए। ज्यादा भीड़ में जाने से गुरेज करना चाहिए। बार-बार हाथ धाेने के अलावा सेनेटाइजर का उपयोग भी करना चाहिए। सोशल डिस्टेंंसिंग और मास्क संक्रमण से बचाव का असरदार हथियार है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें