कोराेना का कहर / 5 कोरोना रोगी; 3 संक्रमित के संपर्क में आए 30 लोग, जो घरों में सफाई का काम करते हैं

5 corona patients; 30 people exposed to 3 infected, who do household cleaning work
X
5 corona patients; 30 people exposed to 3 infected, who do household cleaning work

  • 3 पुरानी आबादी, 1-1 रोगी विनोबा बस्ती और एन ब्लॉक क्षेत्र का, अब तक 58

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 07:04 AM IST

श्रीगंगानगर. जिले में मंगलवार काे पांच नए काेराेना पाॅजिटिव मरीज मिले हैं। शाम काे मेडिकल काॅलेज बीकानेर से सैंपल टेस्टिंग रिपाेर्ट मिलने के बाद होम क्वारेंटाइन किए गए पांच कोरोना पाॅजिटिव मरीजों को आइसाेलेट कर इलाज के लिए जिला अस्पताल भेज दिया गया।

नए रोगियों शहर में पुरानी आबादी में वार्ड नंबर 18 में  सुखवंत सिनेमा के समीप एक  ही परिवार के तीन सदस्य हैं। इसके अलावा विनोबा बस्ती व एन ब्लॉक में एक-एक रोगी मिला है। जिले में अब तक मिलने वाले कोरोना रोगियों की संख्या बढ़कर 58 हो चुकी है।

मंगलवार शाम काे पुरानी आबादी में मिले कोरोना रोगियों को पूर्व सूचना के बावजूद संस्थागत क्वारेंटाइन न करने को लेकर वार्ड पार्षद उप सभापति लाेकेश मनचंदा व मोहल्लावासियों की स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ तकरार भी हुई। जिले में कोरोना के एक्टिव रोगियों की संख्या 28 हो गई है। अब तक 27 रोगी स्वस्थ हो चुके हैं और 3 रोगियों की मृत्यु हो चुकी है।

एक ही परिवार के हैं तीनों लोग, बिहार से लौटे...यहां अलग-अलग घरों में काम करते हैं

कोरोना पॉजिटिव रोगियों की सूचना मिलने के बाद पुरानी आबादी, विनोबा बस्ती और एन ब्लॉक में सीएमएचओ डॉ. गिरधारी लाल मेहरड़ा, डिप्टी सीएमएचओ डॉ. कर्ण आर्य, आरसीएचओ व कोरोना प्रभारी डॉ. एचएस बराड़, तहसीलदार संजय अग्रवाल सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। तीनों जगह कर्फ्यू लगाकर लोगों की आवाजाही बंद कर दी गई है। यहां आसपास सेनेटाइज करने की कार्रवाई की गई।

अब बुधवार को यहां स्वास्थ्य सर्वे कर लोगों में आईएलआई लक्षणों व हाई रिस्क ग्रुप के नागरिकों की सूची तैयार की जाएगी। रोगियों के संपर्क व्यक्तियों को फिलहाल होम क्वारेंटाइन किया गया है। इन्हें बुधवार को सैंपलिंग के लिए जिला अस्पताल या फिर क्वारेंटाइन सेंटर प्रेरणा नशा मुक्ति केंद्र पर भेजा जाएगा। पुरानी आबादी में 26 जून को बिहार के दरभंगा से लौटे दंपती और उसके दो बच्चों का रेंडम सैंपल लिया गया था।

इसमें दंपती और उसके 14 वर्ष के बेटे को कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। विनोबा बस्ती निवासी कोरोना पॉजिटिव युवक पिछले दिनों जोधपुर से लौटा है। वहीं, एन ब्लॉक निवासी कोरोना पॉजिटिव युवक 15 दिन पूर्व दिल्ली से आकर पंजाब के निकटवर्ती कस्बे अबोहर में ठहरा।  21 जून काे यहां पहुंचा। इसके बाद इसका भी रेंडम सैंपल लिया गया था। 

पुरानी आबादी में एक ही परिवार के तीन रोगी बिहारी मूल के निवासी हैं जो बिहार के दरभंगा जाकर 26 जून को श्रीगंगानगर आए थे। इस परिवार के चार अन्य सदस्य भी हैं। इसके आसपास घरों में भी बिहार मूल के लोग रहते हैं।

कोरोना संक्रमितों के करीब 30 संपर्क व्यक्ति हैं। उप सभापति लाेकेश मनचंदा के अनुसार संक्रमित परिवार के चार अन्य सदस्य लोगों के घरों में सफाई आदि का काम करते हैं। इसके अलावा इनके अन्य संपर्क व्यक्ति शहर में विभिन्न स्थानों पर काम करते हैं।

उप सभापति की डिप्टी सीएमएचओ से तकरार, तहसीलदार ने की समझाइश

पुरानी आबादी में पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम के समक्ष उप सभापति लाेकेश मनचंदा व मोहल्लावासियाें की तकरार हुई कि बिहार मूल का परिवार 26 जून काे यहां पहुंचा तो मोहल्लावासियों ने उन्हें जागरुकता से जिला अस्पताल पहुंचाया। इन्हें क्वारेंटाइन करने को कहा था। लेकिन सैंपल के बाद घर भेज दिया। उप सभापति व मोहल्लावासियों ने इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही बताई।

इस पर उप सभापति और डिप्टी सीएमएचओ डॉ. कर्ण आर्य की तकरार हो गई। तब तहसीलदार संजय अग्रवाल ने समझाइश कर शांत किया। कोरोना प्रभारी डॉ. एचएस बराड़ के अनुसार राज्य सरकार की गाइड लाइन है कि बिना लक्षण वाले बाहर से आने वाले लोगों को सैंपल लेने के बाद होम क्वारेंटाइन करना है। उप सभापति मनचंदा के अनुसार वे जिला कलेक्टर को स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के बारे में शिकायत करेंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना