पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोई गंदे पानी तो कोई महंगाई पर गुस्साया:भाजपा कार्यकर्ता गंदे पानी पर गुस्साए तो कांग्रेस ने कलेक्ट्रेट पर चाय बना जताया महंगाई पर रोष, भीम आर्मी सदस्य बोले, श्रमिकों को मिले वेतन

श्रीगंगानगर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीगंगानगर में कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करते भाजपा कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
श्रीगंगानगर में कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करते भाजपा कार्यकर्ता।

इलाके में बुधवार का दिन धरना प्रदर्शनों के नाम रहा। महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट पर चाय बनाकर रसोई गैस के बढ़ते दाम पर केंद्र सरकार को आड़े हाथ लिया। भाजपा कार्यकर्ता पंजाब से आ रहे गंदे पानी को रोकने की मांग लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचे। भीम आर्मी ने महंगाई सहित कई अन्य मुद्दो पर सरकार को घेरा।

श्रीगंगानगर में कलेक्ट्रेट पर चाय बनाते कांग्रेस कार्यकर्ता।
श्रीगंगानगर में कलेक्ट्रेट पर चाय बनाते कांग्रेस कार्यकर्ता।

कलक्ट्रेट पर बनाई चाय
सुबह महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट पर चाय बनाकर बढ़ती महंगाई पर रोष जताया। उनका कहना था कि बढ़ती महंगाई ने सभी का जीना मुहाल कर दिया है। रसोई गैस और पेट्रोल के बढ़ते दाम सभी के लिए परेशानी का सबब बने हुए हैं। महिला कांग्रेस कार्यकर्ता पार्षद कमला बिश्नोई के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट पहुंचे तथा रोष जताया।

भाजपा कार्यकर्ता बोले लगे गंदे पानी पर रोक
वहीं भाजपा कार्यकर्ताओं ने पंजाब से आ रहे गंदे पानी के मुद्दे पर प्रदर्शन किया। ये लोग नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे । इन लोगों का कहना था कि पंजाब से आ रहा गंदा पानी सभी के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। इलाके में दूषित पानी बीमारियों का कारण बन रहा है। प्रदेश की कांग्रेस सरकार इस बारे में पंजाब सरकार से बात करे तो समस्या का समाधान हो सकता है।

श्रीगंगानगर में प्रदर्शन करते भीम आर्मी सदस्य।
श्रीगंगानगर में प्रदर्शन करते भीम आर्मी सदस्य।

भीम आर्मी सदस्य बोले, 'महंगाई है बड़ी परेशानी '
दलित उत्पीड़न रोकने, महंगाई और पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्यवृद्धि के खिलाफ बुधवार को भीम आर्मी के सदस्यों ने कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। इन लोगों का कहना था कि वर्तमान दौर में बढ़ती महंगाई के वर्तमान दौर में आमजन का जीना मुश्किल हो गया है। पेट्रोलियम पदार्थों के लगातार बढ़ते दामों ने आमजन के जीवन को प्रभावित किया है। पेट्रोल के दाम एक सौ दस रुपए के पार हो गए हैं वहीं डीजल भी लगातार बढ़ता जा रहा है।

श्रमिकों को नहीं मिला वेतन
संगठन सदस्यों का कहना था कि लॉकडाउन के दौर में श्रमिकों को वेतन नहीं मिला है। ऐसे में महंगाई उनके लिए परेशानी बनी हुई है। उन्हाेंने पूर्व विधायक कामिनी जिंदल के खिलाफ नारेबाजी करते हुए विकास डब्ल्यूएसपी के श्रमिकों को वेतन नहीं मिलने का मुद्दा भी उठाया।

खबरें और भी हैं...