प्राइवेट हॉस्पिटल के सामने पेशेंट के परिजनों का हंगामा:आंख खराब होने पर गुस्साए परिजन, बोले रोगी के इलाज में  बरती लापरवाही

श्रीगंगानगर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सादुलशहर में प्राइवेट अस्पताल  के बाहर धरना लगाकर बैठे परिजन। - Dainik Bhaskar
सादुलशहर में प्राइवेट अस्पताल के बाहर धरना लगाकर बैठे परिजन।

कस्बे के एक प्राइवेट अस्पताल के सामने मंगलवार को रोगी के परिजनों ने हंगामा कर दिया। इन लोगों का आरोप था कि अस्पताल के डॉक्टरों के इलाज में लापरवाही बरतने के कारण उनके रोगी की आंख की रोशनी चली गई। लोगों ने अस्पताल के सामने धरना लगा दिया। बाद में शाम को हॉस्पिटल मैनेजमेंट के रोगी के परिवार को आर्थिक सहायता देने के आश्वासन पर परिजन माने।
यह था मामला
हंगामा शहर के आयुष्मान हॉस्पिटल के सामने हुआ। असल में अस्पताल में 21 नवम्बर को वार्ड पंद्रह के दीवानचंद को डेंगू होने के कारण भर्ती करवाया गया। पच्चीस नवम्बर को उसकी आंख में कुछ परेशानी हुई। इस पर उसे श्रीगंगानगर रैफर कर दिया गया। श्रीगंगानगर में उसकी आंख में परेशानी होने की बात बताई गई तो परिजनों का रोष बढ़ गया। उन्होंने सादुलशहर के आयुष्मान अस्पताल से संपर्क किया। रोगी के परिजनों का आरोप था कि अस्पताल स्टाफ के इंजेक्शन लगाने के दौरान बरती लापरवाही से रोगी की आंख खराब हुई है। इस पर अस्पताल मैनेजमेंट ने उन्हें पटियाला जाने की सलाह दी। परिजन रोगी को लेकर पटियाला चले गए। वहां रोगी की आंख की रोशनी चले जाने की जानकारी मिली तो परिजनों का गुस्सा भड़क गया।

अस्पताल के आगे लगाया धरना
परिजनों ने अस्पताल के आगे धरना लगा दिया। इन लोगों का कहना था कि अस्पताल की लापरवाही से रोगी की आंख को नुकसान हुआ है। पूरा दिन धरना लगाने के बाद शाम को बीसीएमओ डॉ.अखिलेश शर्मा की मध्यस्थता में पीड़ित के परिजनों को आर्थिक सहयोग देने पर सहमति बनी। इस पर धरना हटाया गया।

खबरें और भी हैं...