पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सफाई कर्मचारियाें:यूनियन का आराेप, चंद पार्षद अपने परिचितों व चहेते कर्मियों काे वार्ड में लगवाते हैं, फिर वे काम पर नहीं आते

श्रीगंगानगर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बीते दिनाें नगरपरिषद में पार्षदाें ने सफाई कर्मचारियाें व निरीक्षकाें काे उनके वार्ड में लगाने व हटाने के लिए उनसे अनुमति लिए जाने सहित अन्य मांगाें काे लेकर धरना लगाया था। अब सफाई कर्मचारियाें की यूनियन पार्षदाें के खिलाफ हाे गई है। यूनियन पदाधिकारियाें का कहना है कि सफाई कर्मचारियाें काे वार्डाें में लगाना व हटाना आयुक्त व सभापति का विशेषाधिकार है। चंद पार्षद व्यवस्था अपनी मर्जी के अनुसार चाह रहे हैं,

इसका यूनियन पुरजाेर विराेध करेगी। यूनियन ने सभापति व अायुक्त से जांच कराने की भी मांग की है, ताकि हकीकत सबके सामने आ जाए। अखिल भारतीय सफाई मजदूर यूनियन का शिष्टमंडल अध्यक्ष उमेश वाल्मीकि, जिलाध्यक्ष दीपक चांवरिया तथा संयोजक अनिल धारीवाल के नेतृत्व में सभापति करूणा चांडक व कांग्रेस नेता अशोक चांडक से मिला तथा उन्हें ज्ञापन सौंपा। यूनियन ने मांग की है कि कुछ पार्षदों द्वारा

अपने पारिवारिक सदस्य, परिचितों तथा चहेते सफाई कर्मचारियों को दबाव डालकर अपने वार्ड तथा अपने चहेते सफाई निरीक्षकों के वार्ड में सफाई कार्य पर लगा लिया जाता है। इन चहेते सफाई कर्मचारियों को अपने वार्ड में लगाने के बाद इनसे सफाई कार्य नहीं लिया जाता है, जिससे वार्ड की सफाई व्यवस्था बुरी तरह बिगड़ जाती है, जिसका ठीकरा ईमानदारी से सफाई कार्य करने वाले सफाई कर्मचारियों पर फोड़ दिया जाता है। अखिल भारतीय सफाई मजदूर यूनियन के पदाधिकारियों ने कहा कि कुछ पार्षदों द्वारा अपने पारिवारिक सदस्य, परिचितों तथा चहेते सफाई कर्मचारियों को अनुचित फायदा पहुंचाने की नीयत से वार्ड सहित शहर की

सफाई व्यवस्था से खिलवाड़ किया जा रहा है। इससे नगरपरिषद को आर्थिक नुकसान पहुंचाया जा रहा है। क्योंकि ऐसे सफाई कर्मचारियों द्वारा बिना कार्य किए ही नगरपरिषद से पूरा वेतन उठाया जा रहा है। इसलिए ऐसे सफाई कर्मचारियों को दूसरे वार्डों में लगाया जाए तथा इन चंद पार्षदों के अनावश्यक हस्तक्षेप को रोका जाए। यूनियन के पदाधिकारियों की बातों को सुनकर सभापति चांडक ने शीघ्र ठोस कार्रवाई करने का

विश्वास दिलाया। उमेश ने बताया कि नगरपरिषद जांच कराती है ताे हकीकत सामने अा जाएगी। जाे भी सफाई कर्मचारी चाहे पार्षदाें का रिश्तेदार हाे या यूनियन का काम पर नहीं आ रहा, उनसे काम लिया जाए। चहल चौक के समीप अखिल भारतीय सफाई मजदूर यूनियन पदाधिकारियों ने सफाई कर्मचारियों के साथ मीटिंग की। इसमें भी सफाई कर्मचारियों ने इस मुद्दे पर गहरा आक्रोश व्यक्त किया। वक्ताओं ने कहा कि

सफाई व्यवस्था को सुचारू बनाने के लिए ऐसे पार्षदों को अपनी मनमानियों को छोड़ना होगा तथा अपने रिश्तेदारों व चहेते सफाई कर्मचारियों से भी सफाई कार्य लेना होगा, ताकि शहर की सफाई व्यवस्था में पर्याप्त सुधार हो सके। इस अवसर पर अध्यक्ष उमेश वाल्मीकि, जिलाध्यक्ष दीपक चांवरिया, संयोजक अनिल धारीवाल, राजू बेचारा, सुखवीर धारीवाल, शंकर भाटिया, प्रशांत लोट, राजू टाक, श्याम नरवाल सहित महिला-पुरूष सफाई कर्मचारी उपस्थित थे।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर से संबंधित कार्यों को संपन्न करने में व्यस्तता बनी रहेगी। किसी विशेष व्यक्ति का सानिध्य प्राप्त हुआ। जिससे आपकी विचारधारा में महत्वपूर्ण परिवर्तन होगा। भाइयों के साथ चला आ रहा संपत्ति य...

और पढ़ें