डिग्गी में डूबने से दो दोस्तों की मौत:एक का पांव फिसला, दूसरा बचाने लगा तो वह भी डूबा

श्रीगंगानगरएक महीने पहले
पदमपुर में सरकारी अस्पताल के बाहर मौजूद मृतकों के परिजन।

जिले के पदमपुर इलाके के गांव सांवतसर में रविवार को गर्मी से निजात पानी के लिए खेत में बनी डिग्गी में नहाने के लिए गए दो दोस्तों की मौत हो गई। दोनों अपने कुछ दोस्तों के साथ नहर पर नहाने गए थे। इसी दौरान एक का पांव फिसला। दूसरा उसे बचाने लगा तो वह भी पानी में डूब गया। उन्हें डूबता देख पास खड़े दोस्तों ने शोर मचाया लेकिन जब तक उन्हें बचाया जाता उनकी मौत हो चुकी थी। पदमपुर पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को सौंप दिया है।

गर्मी से छुटकारा पाने गए थे डिग्गी पर

गांव सांवतसर का रहने वाला दीपक (17) पुत्र बाबूलाल मेघवाल और उसका दोस्त जयदेव (18 )पुत्र हीरालाल रविवार दोपहर करीब तीन बजे के आसपास गर्मी से निजात पाने के लिए गांव में एक खेत में बनी डिग्गी पर नहाने के लिए गए थे। उनके साथ उनके कुछ दोस्त भी थे। ये लोग दोपहर में डिग्गी में उतरे। इनके कुछ दोस्त तो बाहर निकल आए लेकिन दीपक और जयदेव नहाते रहे। इसी दौरान जयदेव का पांव फिसला। वह डूबने लगा तो दीपक ने उसे बचाने की कोशिश की। इसी प्रयास में दीपक का भी बैलेंस बिगड़ गया और वह डिग्गी में गिर गया। आसपास खड़े दोस्तों और अन्य लोगों ने दोनों को बचाने की कोशिश की। कुछ देर बाद उन्हें डिग्गी से निकाल लिया गया लेकिन अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

दोनों के पिता करते हैं मजदूरी
दोनों मृतकों दीपक और जयदेव के पिता मजदूरी करते हैं। दोपहर बाद दोनों के परिवारों को हादसे की सूचना मिली तो वे मौके पर पहुंचे। शव देखकर दोनों के परिवार के लोगों का बुरा हाल था। पिता और परिवार के लोग उस वक्त को कोस रहे थे जब दोनों बच्चों ने डिग्गी में नहाने का फैसला किया। पुलिस ने दोनों के शवों का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया।