पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सरकार के दावे फेल:रजिस्ट्रेशन करवा किसान गेहूं बेचने मंडी में लेकर आया, ना ठेकेदार पहुंचा ना बारदाना मिला

श्रीगंगानगर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गेहूं का एमएसपी प्रति क्विंटल 1975 रुपए, मंडी में खुली नीलामी पर 1830 रुपए बिक रहा, किसानों को 145 का नुकसान

जिले में एमएसपी पर गेहूं खरीद के लिए भले ही सरकार ने खरीद केंद्र बना दिए हाें, लेकिन इन केंद्राें पर सरकार काे गेहूं बेचने के लिए गेहूं लेकर आने वाले किसानाें की गेहूं नहीं खरीदी जा रही है। कारण कि खरीद संबंधी व्यवस्था नहीं की गई है।

बुर्जवाली के किसान परमजीत सिंह ने सरकार काे गेहूं बेचने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाकर श्रीगंगानगर नई धानमंडी में बुधवार काे गेहूं लेकर पहुंचा लेकिन खरीद एजेंसी की ओर से गेहूं नहीं खरीदी गई। क्वालिटी इंस्पेक्टर ने कहा कि सरकार की ओर खरीद संबंधी गाइड लाइन जारी नहीं हुई। अभी खरीद शुरू हाेने में चार-पांच दिन लगेंगे। अब खरीद शुरू हाेने के इंतजार में किसान ने यहीं मंडी में गेहूं रखा है।

किसान ने एफसीआई के क्षेत्रीय प्रबंधक से की शिकायत, सरकारी अधिकारी बोले-गाइडलाइन नहीं आई, अभी 5 दिन लगेंगे

बुर्जवाली के किसान परमजीत सिंह ने सरकार काे एमएसपी पर गेहूं बेचने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाया। उसे खरीद एजेंसी की ओर से सात अप्रैल का टाेकन जारी किया गया। जारी टाेकन के अनुसार किसान बुधवार काे गेहूं की ट्राॅली भरकर यहां मंडी में दुकान नंबर चालीस पर पहुंचा तथा यहां ढेरी लगाई।

इसके बाद खरीद एजेंसी एफसीआई के क्वालिटी इंस्पेक्टर से संपर्क किया ताे उन्हाेंने कहा कि सरकार की ओर से गेहूं खरीद के संबंध में गाइड लाइन जारी नहीं हुई है। अभी खरीद शुरू हाेने में चार-पांच दिन का समय लगेगा। जबकि यहां गेहूं की खरीद के लिए बारदाने की व्यवस्था भी नहीं है तथा ना ही गेहूं थैलाें में भरने के लिए ठेकेदार नियुक्त किया गया है।

पीड़ित किसान ने इस संबंध में एफसीआई के क्षेत्रीय प्रबंधक काे इस संबंध में शिकायत दर्ज करवाई है। इस किसान ने दैनिक भास्कर काे बताया कि मंडी में खुली नीलामी पर गेहूं 1830 रुपए प्रति क्विंटल के अधिकतम भावाें पर बिक रहा है।

जबकि गेहूं का एमएसपी प्रति क्विंटल 1975 रुपए है। सरकार ने नहीं खरीदा ताे मजबूरन उसे कम दाम पर ही गेहूं बेचना पड़ेगा। दूसरी तरफ ट्रेडर्स एसाेसिएशन अध्यक्ष धर्मवीर डूडेजा ने भी इस संबंध में एफसीआई के क्षेत्रीय प्रबंधक काे पत्र लिखकर गेहूं खरीद व्यवस्था सुनिश्चित करने की मांग की है। मंडी में एफसीआई की ओर से एमएसपी पर गेहूं खरीद के लिए खरीद केंद्र खाेला गया है, लेकिन ना ताे अब तक बारदाने की व्यवस्था है और ना ही थैलाें में गेहूं भराई के लिए ठेकेदार यहां पहुंचा है। जबकि एफसीआई अधिकारियाें का कहना है कि ठेकेदार जल्दी ही यहां काम शुरू करेगा।

किसान जाे गेहूं लेकर आया है उस गेहूं की क्वालिटी जांच के लिए सैंपल भेजा है। शाम तक रिपाेर्ट नहीं आई। साथ ही ठेकेदार ने अभी यहां काम शुरू नहीं किया है। बारदाने की व्यवस्था भी एक दाे दिन में हाे जाएगी। इसके बाद दिक्कत नहीं आएगी।
रविंद्र पंवार, क्वालिटी इंस्पेक्टर एफसीआई, श्रीगंगानगर।

मंडियाें में गेहूं की आवक अभी शुरू हुई है। गेहूं में नमी व क्वालिटी की जांच की जा रही है। जैसे ही अावक बढ़ेगी खरीद में भी काेई दिक्कत नहीं आएगी।
चक्रेश कुरीन, क्षेत्रीय प्रबंधक, एफसीआई श्रीगंगानगर।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

    और पढ़ें