पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना खत्म नहीं, पर डर खत्म:बाजारों में असावधानी, संकड़े रास्तों में दुकानों के बाहर भारी भीड़, वाहनों की रेलमपेल से सोशल डिस्टेंसिंग पूरी तरह गायब

श्रीगंगानगर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीगंगानगर के तह बाजार में लोगों की भीड़। - Dainik Bhaskar
श्रीगंगानगर के तह बाजार में लोगों की भीड़।

कोरोना के रोगी कुछ कम हुए तो सरकार ने दुकानें शाम चार बजे तक खोलने की छूट दे दी। इस दौरान सड़कों पर ट्रैफिक के हाल बेहद चिंताजनक हैं। बाजारों में जिस तरह से लोग निकल रहे हैं, उससे कोरोना के फिर से बढ़ने की आशंका पैदा हो रही है। गुरुवार सुबह शहर की सड़कों पर जहां देखो ,बस लोग ही लोग नजर आ रहे थे। न सोशल डिस्टेंसिंग की पालना हो रही थी, न किसी को एक-दूसरे के समीप होने से चिंता हो रही थी। कोरोना भले ही खत्म नहीं हुआ, लेकिन जिस तरह के शहर की सड़कों पर लोगों की भीड़ थी, उससे लगा कि लोगों का डर खत्म हो गया है।

श्रीगंगानगर की स्टेशन रोड।
श्रीगंगानगर की स्टेशन रोड।

स्टेशन रोड पर टैंपो की कतार

​​​​​​शहर के स्टेशन रोड पर गाड़ी आने या जाने के समय पर तो वाहनों की कतार ही लग जाती है। इस दौरान टैंपो चालक यात्रियों तक जाते हैं और टैंपों में यात्री बैठाने के दौरान भी सैनेटाइजेशन आदि का ध्यान नहीं रखा जाता। ऐसे में कोरोना को रोकने के प्रयास बेमानी ही नजर आते हैं।

श्रीगंगानगर की सब्जी मंडी में निकले लोग।
श्रीगंगानगर की सब्जी मंडी में निकले लोग।

सब्जी मंडी में नाे डिस्टेंसिंग

शहर की बीरबल चौक के पास स्थित सब्जी मंडी में जन अनुशासन पखवाड़े के दौरान तो ग्यारह बजे के बाद दुकानें खोलने पर पाबंदी थी। इस दौरान ठेला संचालक भी केवल गलियों में ही घूम कर फल सब्जियां बेच सकते थे, लेकिन छूट मिलने के बाद यहां भी बड़ी संख्या में लोग आने लगे हैं। कोरोना के दौर में यहां लोगों का बिना सोशल डिस्टेंसिंग की पालना किए आना बेहद खतरनाक है।

​​​​​​​तह बाजार में भीड़ तय

शहर का प्रमुख बाजार है तह बाजार। जहां बड़ी संख्या में किराना के सामान की दुकानें हैं। इस संकरे बाजार में दोनों तरफ वाहन और लोगों के पैदल निकने के बाद सोशल डिस्टेंसिंग की गुंजाइश ही खत्म हो जाती है। जानकारों का कहना है कि ऐसी स्थिति से बचने के लिए ऐसे संकरे बाजारों में एकतरफा यातायात किया जा सकता है, अन्यथा कोरोना के फिर से बढ़ने का खतरा पैदा हो सकता है।