पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शहरवासियों को मिलेगी राहत:दो जनों पर राजकार्य में बाधा का मुकदमा दर्ज, तीन दिन बाद आज काम पर लौटेंगे सफाई कर्मी

श्रीगंगानगर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जी ब्लॉक में अतिक्रमण को लेकर गत दिनाें कांग्रेस नेता चांडक एवं विधायक गौड़ समर्थकों में विवाद के बाद ठप किया था सफाई कार्य

चार दिन पूर्व वार्ड नंबर 39 के जी ब्लॉक में अतिक्रमण हटाने को लेकर सभापति करुणा चांडक के पति अशोक चांडक व विधायक राजकुमार गौड़ के समर्थकों के बीच हुए विवाद में एक और मुकदमा दर्ज हुआ है।

नगरपरिषद की कर्मचारी यूनियन, सफाई कर्मी यूनियन और सफाई निरीक्षण उमेश भाटिया की ओर से दी रिपोर्ट पर कार्यवाहक आयुक्त विश्वास गोदारा ने दो लोगों के खिलाफ राजकार्य में बाधा पहुंचाने का मुकदमा कोतवाली में दर्ज करवाया है। मुकदमा दर्ज होने के बाद सफाई कर्मियों ने हड़ताल समाप्त कर काम पर लौटने की घोषणा कर दी है। शहर में सोमवार को तीन दिन बाद सफाई होगी।

मारपीट के मामले में काेतवाली में अब तीसरा मुकदमा मकान मालिक और किराएदार पर दर्ज

आचार्य तुलसी मार्ग पर अतिक्रमण हटाने गए नगरपरिषद के अमले से मारपीट के चार दिन पुराने मामले में काेतवाली में दर्ज हुआ ये तीसरा मुकदमा है। रविवार काे नगरपरिषद आयुक्त द्वारा भिजवाए गए परिवाद के आधार पर जी ब्लाॅक निवासी विकेश सेतिया व किराए की दुकान चलाने वाले समीर जग्गा के खिलाफ राजकार्य में बाधा और मारपीट के आराेप में मुकदमा दर्ज किया गया है। इसकी जांच भी एएसआई राकेश कुमार काे दी गई है।

पुलिस काे भिजवाए परिवाद में कार्यवाहक आयुक्त विश्वास गाेदारा ने बताया है कि 9 सितंबर की दाेपहर करीब सवा तीन बजे 201 जी ब्लाॅक एरिया में दुकानाें के बाहर लगाए गए टीनशेड काे हटाने काे नगरपरिषद के कर्मचारी आसिफ खां पुत्र कासिम, संजय कुमार पुत्र प्रेम कुमार व सफाई निरीक्षक उमेश वाल्मीकि काे भेजा गया था। इनके साथ मकान मालिक विकेश सेतिया और इस मकान में फास्ट फूड की दुकान चला रहे समीर जग्गा ने वाद-विवाद कर मारपीट की। राजकार्य करने से राेका और सरकारी संपत्ति काे नुकसान पहुंचाने का प्रयास किया।

इस संबंध में नगरपरिषद कर्मचारी यूनियन, अखिल भारतीय सफाई मजदूर कांग्रेस यूनियन, जेसीबी चालक आसिफ खान व उमेश वाल्मीकि ने आयुक्त काे पत्र प्रस्तुत कर घटना के संबंध में बताया है। सफाई कर्मचारियों से हुई इस वारदात का मुकदमा दर्ज करने तक सफाई कार्य ठप करने की चेतावनी दी। इस पर काेतवाली में मकान मालिक और उसके किराएदार पर मुकदमा दर्ज हाे गया है।

आज से काम करेंगे 800 कर्मचारी, शहर से रोजाना निकलता है 90 एमटी कचरा

नगर परिषद आयुक्त सचिन यादव के अनुसार सफाई कर्मियों ने मुकदमा दर्ज होने तक सफाई ठप करने की घोषणा की थी। मुकदमा दर्ज होने के बाद सफाई कर्मचारियों की हड़ताल समाप्त कर दी है। अब सोमवार को शहर में सफाई सुचारू तौर पर होगी।

सफाई मजदूर कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष उमेश वाल्मीकि के अनुसार रविवार शाम को कर्मचारियों का प्रतिनिधिमंडल कोतवाली के एसएचओ गजेंद्र सिंह जोधा से मिला था। कर्मचारियों ने मुकदमा दर्ज करने की मांग की थी।

तब एसएचओ ने आयुक्त के मार्फत मुकदमा दर्ज करने का प्रार्थना-पत्र भिजवाने को कहा था। इसके बाद आयुक्त ने कर्मचारियों के प्रार्थना-पत्रों को नगरपरिषद के कवरिंग लेटर के साथ पुलिस को भेजा, जिस पर मुकदमा दर्ज हुआ।

प्रदेश उपाध्यक्ष उमेश वाल्मीकि के अनुसार शहर के सभी वार्डों में स्थायी व अस्थायी कर्मचारियों की संख्या 800 है जो हड़ताल पर थे। रोजाना करीब 90 टन कचरा निकलता है। कचरे का उठाव न होने की वजह से शहर 250 टन से ज्यादा कचरा अटका पड़ा है।

खबरें और भी हैं...