राहत की उम्मीद:केंद्रीय टीम ने माना, श्रीगंगानगर जिले में बेमाैसम बारिश से गेहूं की चमक फीकी, दाना भी कमजाेर

श्रीगंगानगर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • केंद्र काे रिपाेर्ट भेजी, सरकारी खरीद में कमजाेर व फीकी चमक वाली गेहूं खरीद की मिल सकती है छूट

दिल्ली से आई केंद्रीय खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की टीम ने यह माना है कि श्रीगंगानगर-हनुमानगढ़ जिलाें में इस बार गेहूं की फसल में कमजाेर दाना अधिक है तथा बेमाैसम बरसात के कारण दाने की चमक भी फीकी हुई है। टीम ने इसकी रिपाेर्ट दिल्ली उच्चाधिकारियाें काे भेज दी है। रिपाेर्ट के आधार पर गेहूं की सरकारी खरीद में 10 प्रतिशत तक कमजाेर दाने वाली गेहूं की खरीद की छूट मिलने की संभावना बन गई है।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के सहायक निदेशक डाॅ. शाही के नेतृत्व में आई टीम ने दाेनाें जिलाें की मंडियाें में बिकने के लिए आई गेहूं के सैंपल लेकर गुरुवार काे नमूनाें का परीक्षण किया। इसमें पाया कि समर्थन मूल्य पर बिकने आरही गेहूं की फसल में कमजाेर दाना 10 प्रतिशत तक है। चमक पर भी असर पड़ा है। टीम ने जांच में यह भी माना कि मार्च व अप्रैल में बेमाैसम बरसात से गेहूं फसल की क्वालिटी प्रभावित हुई है।

गेहूं के सैंपलाें के विश्लेषण के दाैरान श्रीगंगानगर के जिला रसद अधिकारी राकेश साेनी व हनुमानगढ़ जिला रसद अधिकारी राकेश न्याैल उपस्थित थे। डीएसओ राकेश साेनी ने बताया कि गेहूं के सैंपलाें के विश्लेषण कर रिपाेर्ट दिल्ली भेज दी है। इस रिपाेर्ट के आधार पर कमजाेर दाने वाली गेहूं खरीद में छूट मिल सकती है। कम चमक वाली गेहूं खरीद में भी छूट मिलने की संभावना है।

दाेनों जिलों में अब तक सवा चार लाख एमटी गेहूं की खरीद
श्रीगंगानगर हनुमानगढ़ जिलाें में अब तक सवा चार लाख एमटी गेहूं की खरीद हाे चुकी है। इसमें से श्रीगंगानगर जिले में दाे लाख एमटी व हनुमानगढ़ जिले में सवा दाे लाख एमटी गेहूं की खरीद हुई है। दाेनाें जिलाें की मंडियाें में नियमित गेहूं की आवक व खरीद जारी है। इस बीच नई धानमंडी श्रीगंगानगर में सरकारी खरीद किए गए गेहूं का ट्राॅलियाें से उठाव जारी है। लगभग डेढ़ लाख थैले मंडी में भरे हुए पड़े हैं। गुरुवार काे हुई खरीद के 50 हजार थैले अभी भरे जाने शेष हैं।

खबरें और भी हैं...