पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ऐसा शहर है मेरा:बस में जन्मे बच्चे व पाकिस्तानी मां को अस्पताल से छुट्‌टी, आर्थिक सहायता देकर दिल्ली रवाना किया

श्रीगंगानगर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बच्चे के पिता जयराम बोले-शुक्रिया दैनिक भास्कर, जन्म प्रमाण पत्र बना, इंटेलीजेंस की क्लीयरेंस के बाद मिली छुट्‌टी

10 दिन पूर्व नेशनल पर जन्मे बच्चे और उसकी पाकिस्तान मूल की मां को जिला अस्पताल से शुक्रवार को छुट्टी दे दी गई। इस नवजात दलीप कुमार और उसकी मां रामी देवी को इंटेलीजेंस से क्लीयरेंस मिलने के बाद शुक्रवार शाम जिला अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। इसके बाद परिवार को आर्थिक सहायता देकर दिल्ली रवाना कर दिया।

दिल्ली में पाकिस्तानी दूतावास में बच्चे के पासपोर्ट के लिए फाइल लगेगी। सोमवार को रामदेवी, अपनी नवजात दलीप, दो बड़े बच्चों मोहमाया, चंद्र, पति जयराम और पाक मूल के रिश्तेदार जगशी के साथ दिल्ली रवाना हुई। परिवार दैनिक भास्कर और श्रीगंगानगर के लोगों के अपनत्व के प्रति अभिभूत हुआ। पिता जयराम बोले ‘वतन से दूर शहर में मदद करवाई, इसके लिए शुक्रिया दैनिक भास्कर’।

नगर परिषद ने बच्चे को जन्म प्रमाण पत्र जारी किया। नाम सहित जन्म-प्रमाण पत्र जारी होने के बाद इंटेलीजेंस ने परिवार के बारे में आवश्यक जानकारी जुटाई। जिला अस्पताल से मेडिकल रिकॉर्ड लिया। इसके बाद रामी और नवजात को डिस्चार्ज कर दिया। जच्चा-बच्चा दाेनाें काे 27 जनवरी रात को भर्ती किया था।

हालांकि मेडिकल प्रोटोकॉल के हिसाब से नॉर्मल प्रसूता रामी और स्वास्थ्य की दृष्टि से उसके नॉर्मल बेटे को 48 घंटे बाद डिस्चार्ज किया जा सकता था। लेकिन जिला अस्पताल प्रबंधन ने परिवार की गरीबी और जन्म प्रमाण पत्र बनने में संभावित दिक्कत को देखते हुए छुट्टी नहीं देकर परिवार की मदद की।

ज्ञात रहे पाकिस्तान के सिंध प्रांत के सांगड़ जिले के सिंजौरा गांव की रामी, उसके पति जयराम, सात साल का मोहमाया और पांच साल का चंद्र अगस्त 2019 में हरिद्वार का वीजा लेकर भारत आए थे। इसके बाद वे अपने रिश्तेदारों पास गुजरात के पाटन जिले में रादनपुर गांव में रहने लगे। लॉकडाउन की वजह से वापस नहीं जा पाए ।

27 जनवरी रामी देवी, उसके परिवार सहित 59 पाकिस्तानी अपने देश लौट रहे थे। वे बस में सवार होकर गुजरात से बाघा बॉर्डर जा रहे थे। जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग पर गांव 11 टीकेडब्ल्यू के समीप रामी को प्रसव पीड़ा हुई। उसकी बस में ही डिलीवरी करवानी पड़ी। उसने बेटे का जन्म हुआ था।

अपनत्व पर अभिभूत परिजन बोले...भाई ने साथ नहीं दिया, श्रीगंगानगर शहर के लोगों ने संभाला व सहायता की

जिला अस्पताल के जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र सॉफ्टवेयर में राष्ट्रीयता के कॉलम में सिर्फ भारतीय ही फीड होने की वजह से रामी के नवजात को प्रमाण पत्र जारी करने में दिक्कत आई। पूरे मेडिकल रिकाॅर्ड सहित प्रकरण नगर परिषद को भेजा। पीएमओ डॉ. बलदेव सिंह चौहान ने नगर परिषद को पत्र लिख कर बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र जल्द जारी करने का आग्रह किया।

गायनिक विभाग के एचओडी के अनुसार इस संंबंध में जिला प्रशासन, इंटेलीजेंस और पुलिस से भी मार्गदर्शन मांगा गया। इससे बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र बन सका। डॉ. स्वामी के अनुसार जन्म प्रमाण-पत्र के आधार बच्चे व परिवार के लौटने में अड़ंगा न बने, इसका ध्यान रखते हुए कार्रवाई करवाई गई।

अस्पताल से डिस्चार्ज करते समय जयराम के परिवार के पास दिल्ली जाने का किराया नहीं था। जिला अस्पताल के सहायक प्रशासनिक अधिकारी धीरज गहलोत, मारवाड़ी युवा मंच के मदन सिंगल, राहुल मित्तल और गजेंद्र ने मदद की। परिवार को दिल्ली जाने और वहां रहने के लिए आर्थिक मदद की। रात को खाना खिलाकर रवाना किया। तीनों बच्चों नवजात दलीप, मोहमाया और चंद्र को गर्म कपड़े दिए।

यहां से रवानगी से पहले अभिभूत जयराम ने कहा कि 27 जनवरी को मेरा भाई अमर सिंह भी साथ था। रात केे समय जब रामी को भर्ती किया तो उसने भाई अमरसिंह से उनके पास रुकने के कहा। वह खर्चा ज्यादा पड़ने का कहते हुए पाकिस्तान चला गया। जयराम के अनुसार दैनिक भास्कर ने समाचार के माध्यम से हमारी दास्तान बताई।

इसके बाद एनजीओ से प्रबंध कर उनके लिए गर्म कपड़े, खाना सहित अन्य जरूरतों को पूरा करवाया। बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र बनाने में मदद करवाई। इसके लिए दैनिक भास्कर का शुक्रिया अदा करता हूं। ज्ञात रहे दैनिक भास्कर में पाकिस्तान महिला के बस में ही बच्चा होने का समाचार प्रमुखता से प्रकाशित होने के बाद जयको लंगर सेवा समिति मां अन्नपूर्णा रसोई के कोषाध्यक्ष महेश गोयल, निस्वार्थ रसोई पदाधिकारियों सहित अस्पताल स्टाफ ने इस परिवार की मदद की।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें