बिहार के कारीगर बनाएंगे देवी दुर्गा की प्रतिमाएं:​​​​​​​श्रीगंगानगर में शुरुआती तौर पर शुरू हुआ निर्माण, दो को खुलेगा देवी का दरबार

श्रीगंगानगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीगंगानगर में सजा देवी दुर्गा का दरबार। ( फाइल फोटो। ) - Dainik Bhaskar
श्रीगंगानगर में सजा देवी दुर्गा का दरबार। ( फाइल फोटो। )

शहर में दुर्गा पूजा की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। पंजाब से सटे इस इलाके में दुर्गाष्टमी से करीब बीस दिन पहले बंगाल और बिहार मूल के लोग पर्व की तैयारियों में जुट जाते हैं। इस बार भी शहर के पाटिलीपुत्रा फाउंडेशन ने इसके लिए तैयारी शुरू कर दी है। संगठन ने देवी दुर्गा की प्रतिमाएं तैयार करनी शुरू कर दी हैं।
बिहार के गहने पहनेंगी देवी
देवी दुर्गा इस बार बिहार के गहने पहनेंगी। बिहार के सहरसा जिले के कारीगर अशोक पंडित ने श्रीगंगानगर में तैयारियां शुरू कर दी हैं। शहर के छह ई छोटी स्थित ड्रीम सिटी में देवी की प्रतिमाओं का निर्माण शुरू हो गया है। खास बात यह है कि कारीगर देवी की प्रतिमाएं तैयार करने के साथ ही इन्हें पहनाने के लिए विशेष रूप से गहने मंगवाएंगे। ये गहने बिहार के कटिहार से मंगवाए जाएंगे।
देवी पंडाल में हर दिन होगी पूजा अर्चना

पाटलिपुत्रा फाउंडेशन के तत्वावधान में गांव छह ई छोटी की ड्रीम सिटी में देवी का पंडाल सजाया जाएगा। यहां छब्बीस सितम्बर से पांच अक्टूबर तक देवी दुर्गा की पूजा अर्चना होगा। हनुमानगढ़ जिले के संगरिया के आचार्य दयानंद शास्त्री और श्रीगंगानगर के पंडित योगेश मिश्र की देखरेख में कार्यक्रम होगा। छब्बीस सितम्बर को पूजन शुरू होगा। एक अक्टूबर को विल्व निमंत्रण के बाद दो अक्टूबर को दरबार दर्शन के लिए खोला जाएगा। तीन अक्टूबर को ढाक आरती और निशा पूजन होगा तथा चार अक्टूबर को यज्ञ, भंडारा और डांडिया होगा तथा पांच अक्टूबर को विसर्जन किया जाएगा।