पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना ने बिगाड़ा हाल:कुछ घंटे खुलते बाजार से कमाई पर संकट, छोटे दुकानदारों की बढ़ी परेशानी

श्रीगंगानगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीगंगानगर की सब्जी मंडी में  सब्जियां  बेचते दुकानदार। - Dainik Bhaskar
श्रीगंगानगर की सब्जी मंडी में सब्जियां बेचते दुकानदार।

कोरोना इन दिनों पीक पर है। अब तीन दिन बाद लॉकडाउन की घोषणा भी कर दी गई है। ऐसे में सबसे ज्यादा परेशान हैं छोटे दुकानदार या छोटे-छोटे कामकाज कर घर चलाने वाले लोग। इन लोगाें में शामिल हैं सब्जी बेचने वाले, चाय का ठेला लगाने वाले और ऐसे ही छोटे-छोटे काम करने वाले लोग।

क्या खरीदे, सौदा बिकेगा नहीं
शहर की सब्जी मंडी में सुबह साढ़े ग्यारह बजे तक रेहड़ियां खड़ी थी। यहां सब्जी बेच रहे कमलकांत से जब सब्जी कम लाने का कारण पूछा तो उसका कहना था कि क्या करें सौंदा लाकर। ग्यारह बे बाद तो मुश्किल स े ही कुछ देर बेच पाते हैँ। उसका कहना था कि उसे तो यही चिंता सता रही है कि लॉकडाउन हुआ तो गुजारा कैसे होगा।

दिन भर में कमाए पचास रुपए
सूरतगढ़ रोड पर चाय की थड़ी लगाने वाले देवीलाल का कहना था कि सुबह नौ बजे थड़ी पर आकर खड़े हुए लेकिन अब तक पचास रुपए की कमाई ही हो पाई है। उसका कहना था कि अब दस मई से तो घर में ही रहना होगा। ऐसें में मश्किल बढ़ेगी।

कमाई पर बुरा असर
सब्जी मंडी में ही दुकान लगााने वाले मनोहरलाल बताते हैकि अब एक बार फिर लॉकडाउन का संकट सामने आ गया है। अभी भी महज दो से तीन घंटे ही काम होपाता है।