पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अराजकता का माहौल:विधायक के संरक्षण से शहर में भय व अराजकता का माहौल, पुलिस-प्रशासन गूंगा व बहरा- चांडक

श्रीगंगानगर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट से मिलते कांग्रेस नेता चांडक व पार्षद। - Dainik Bhaskar
पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट से मिलते कांग्रेस नेता चांडक व पार्षद।
  • गौड़-चांडक की लड़ाई फिर जयपुर पहुंची, वहां पायलट-एसीएस से मिले

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशाेक चांडक मंगलवार काे एक बार फिर जयपुर पहुंचे, जहां उन्हाेंने पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गाेविंद सिंह डाेटासरा, एसीएस गृह विभाग एवं एडीजी आदि से मुलाकात कर श्रीगंगानगर शहर के माैजूदा हालात से अवगत कराया। सभी काे दिए ज्ञापन में उन्हाेंने आराेप लगाए कि श्रीगंगानगर विधायक राजकुमार गाैड़ के राजनीतिक संरक्षण से शहर में भय और अराजकता का माहौल है।

दिन दहाड़े लूटपाट, चेन स्नेचिंग, अवैध शराब की बिक्री, खुलेआम सट्टा, चिट्टा सप्लाई, अफीम जैसे मादक पदार्थों की तस्करी, जगह-जगह नाजायज कब्जे और व्यापारियों से फिरौती वसूलना आम बात हो गई है और इनमें विधायक के भानजे सुनील पहलवान की भी लिप्तता है। विधायक के दबाव के चलते समस्त पुलिस व प्रशासन गूंगा, बहरा और अंधा हो गया है। चांडक ने हाल ही में सरकार द्वारा की गई नियुक्तियों पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि सरकारी विभागों में राजनीतिक नियुक्तियां की गई हैं, उसमें कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की अनदेखी कर आरएसएस व बीजेपी कार्यकर्ताओं को नियुक्त किया जा रहा है। इतना ही नहीं, विधायक गौड़ के भानजे सुनील पहलवान व उसके साथियों ने पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों की मौजूदगी में उनका गिरेबान पकड़कर मारपीट की।

इन तमाम घटनाओं के बावजूद पुलिस व प्रशासन इन अपराधियों पर किसी प्रकार की कोई भी कानूनी कार्रवाई नहीं करती, जिस कारण शहर के आमजन में प्रदेश की कांग्रेस सरकार के विरुद्ध भारी आक्रोश है। उन्होंने मांग की कि सरकार इन तमाम आरोपों की किसी भी स्वतंत्र एजेन्सी से निष्पक्ष जांच करवाए। कांग्रेस नेता अशाेक चांडक ने कहा कि सीएम अशाेक गहलाेत से भी समय मांगा गया है। उन्हें भी शहर के हालात से अवगत कराया जाएगा।

मैं कभी किसी पर आराेप नहीं लगाता। 40 साल के राजनीतिक करियर में शहर के विकास पर ही केंद्रित रहा हूं। जब भी माैका मिला, काम करवाए। आराेप लगाने के बजाय शहरवासियाें काे लाभ देने के प्रयास हाेने चाहिए। गलत काम करने वालाें के साथ नहीं हूं, जाे गलत है या बुरे काम करता है, उस पर कार्रवाई करवाएं। जल्द ही शहर के लिए और भी अच्छे परिणाम देखने काे मिलेंगे।
राजकुमार गाैड़, विधायक, श्रीगंगानगर

खबरें और भी हैं...