पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लोहड़ी पर्व आज:पहले बेटा होने पर मनाई जाती थी लोहड़ी, अब समाज की सोच में आ रहा सकारात्मक बदलाव

श्रीगंगानगर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • घर में आई बहू, बेटी जन्मी...परिवार मनाएंगे खुशियों की लोहड़ी

लाेहड़ी माई लाेहड़ी, मुंडा चढ़या घाेड़ी... व दे माई लाेहड़ी जीवे तेरी जाेड़ी... गीताें के साथ जिलेभर में बुधवार काे लाेहड़ी पर्व की धूम रहेगी। आज हम आपकाे ऐसे दाे परिवाराें से मिलवाने जा रहे हैं, जिनके यहां नए मेहमानों का आगमन हुआ। काेराेना के कारण इनकी पहली लाेहड़ी का पर्व बुधवार काे सादगीपूर्ण तरीके से मनाया जाएगा। परिवारों ने तय किया है कि वे जरूरतमंद बेटियों को मूंगफली-रेवड़ी आदि देकर लोहड़ी पर्व मनाएंगे। ध्यान रहे कि इस दिन सार्वजनिक व ज्यादा भीड़ के साथ कार्यक्रम नहीं हो सकेंगे।

बेटे की शादी, बहू के साथ मनाएंगे घर में पहली लोहड़ी
हम सबसे पहले बात बात कर रहे हैं 5 जैड निवासी लखविंद्र सिंह सिद्धू की। इनके घर में 26 साल बाद बहू का प्रवेश हुआ है। लखविंद्र सिंह के बेटे अरविंदसिंह की 8 फरवरी 2020 काे पवनप्रीत काैर से शादी हुई। अब दाे माह का पाेता समर सिंह सिद्धू हाेने से परिवार में दाेगुनी खुशी का माहाैल है। इस खुशी काे पहले बड़े स्तर पर कार्यक्रम का आयाेजन कर सबसे साझा करने का विचार था। लेकिन काेराेना के चलते इस बार काेई बड़ा कार्यक्रम नहीं कर पारिवारिक लाेगाें काे ही आमंत्रित किया गया है। मेरे बेटे ने एमबीए की पढ़ाई पूरी की है और बहू वर्तमान में एमएससी मैथ में फाइनल की पढ़ाई कर रही है।

32 साल बाद घर में जन्मी बेटी, आज मनाएंगे लोहड़ी
ये हैं अग्रसेन नगर में रहने वाले लविश बंसल। लविश बताते हैं कि उनकी शादी 27 फरवरी 2017 काे हिंना बंसल से हुई। लविश के घर में 32 साल बाद 17 सितंबर 2020 काे कन्या के रूप में खुशियां आई हैं। उनका कहना है कि घर में बेटी मेहर आने के बाद से परिवार में सुख-समृद्धि बढ़ी है। लविश बताते हैं कि अब अलग-अलग समाज में बेटियाें के जन्म पर भी लाेहड़ी की खुशियां मनाने लगे हैं। इससे समाज में बेटे और बेटी काे एक समान रूप से देखा जाता है। लविश के पिता पवन कुमार बंसल व्यापारी है और मम्मी अनिता बंसल गृहिणी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपके स्वाभिमान और आत्म बल को बढ़ाने में भरपूर योगदान दे रहे हैं। काम के प्रति समर्पण आपको नई उपलब्धियां हासिल करवाएगा। तथा कर्म और पुरुषार्थ के माध्यम से आप बेहतरीन सफलता...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser