व्यर्थ बहा पानी:गंगनहर की करणी जी वितरिका में आया कटाव, पेयजल के लिए छोड़ा लाखों लीटर पानी बहा व्यर्थ

श्रीगंगानगर (जैतसर)6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जैतसर क्षेत्र के गांव  तेरह  जीबी के पास नहर का कटाव पाटते किसान। - Dainik Bhaskar
जैतसर क्षेत्र के गांव तेरह जीबी के पास नहर का कटाव पाटते किसान।

कई दिन की नहरबंदी के बाद गुरुवार को गंगनहर की करणी जी वितरिका में पानी छोड़ने के साथ ही कटाव आ गया। गुरुवार देर रात यह मामूली था लेकिन शुक्रवार सुबह पानी के बहाव के कारण यह बढ़ गया। पानी नहर के डायवर्सन में चला गया और लाखों लीटर पानी पेयजल के लिए उपयोग होने की बजाय बेकार बह गया।

गांव तेरह जीबी के पास आया कटाव

जल संसाधन विभाग ने गुरुवार रात को वितरिका में पेयजल के लिए पानी छोड़ा था। पानी जैसे ही गांव 13 जीबी के पास पहुंचा तो वितरिका में कटाव आ गया। कटाव सात फीट तक पहुंच गया। सूचना मिलते ही जल संसाधन विभाग के कनिष्ठ अभियंता कैलाश जाट व सहायक अभियंता युवराज सिंह मौके पर पहुंचे व कटाव को पाटने का कार्य शुरू करवाया।

एक घंटे बाद कटाव किया दुरुस्त

कटाव शुाक्रवार सुबह छह बजे के आसपास बढ़ा। आसपास के किसानों को इसकी जानकारी मिली तो उन्होंने अपने स्तर पर कटाव पाटने का काम शुरू कर दिया तथा इसकी सूचना जल संसाधन विभाग को दी। मौके पर पहुंचे जलसंसाधन विभाग के अधिकारियों ने किसानों के सहयोग से कटाव को एक घेंटै बाद दुरुस्त कर दिया ।

डायवर्सन में भरा पानी

कटाव के कारण सूरतगढ़ अनूपगढ सड़क मार्ग के डायवर्सन में पानी भर गया। वहीं लाखों लीटर पेयजल व्यर्थ बह गया। वितरिका में कटाव का कारण वितरिका के लम्बे समय से सूखे होने के कारण पड़ी दरारों को बताया जा रहा है। फिलहाल मौके पर किसान व जल संसाधन विभाग अधिकारी व कर्मचारी मौजूद हैं। कंटेंट : डीडी पारीक, जैतसर