पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सामंजस्य और समर्पण:अस्पताल के ऑर्थाे सर्जन रवि भगत 25 साल की सेवा के बाद काेर्ट आदेश से सेवानिवृत्त

श्रीगंगानगर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिला अस्पताल के वरिष्ठ ऑर्थाे सर्जन रवि भगत ने काेर्ट आदेश के जरिए स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली है। उन्हाेंने 14 जुलाई काे अपनी आखिरी हाजिरी पर साइन किए और फिर सेवानिवृत्त हाे गए। उनकाे पीएमओ डाॅ. बलदेवसिंह चाैहान, डीसी डाॅ. प्रेम बजाज, पूर्व पीएमओ डाॅ. पवन सैनी ने राजस्थानी साफा पहनाकर अभिनंदन किया और घर तक छाेड़कर आए।

डाॅ. भगत ने बताया कि उन्हाेंने 1996 में राजकीय सेवा में पदभार संभाला था। 25 साल लंबी सरकारी सेवा में हजाराें मरीजाें की हड्डियाें के सफल ऑपरेशन किए। करीब ढाई दशक के सेवाकाल में साथी डाॅक्टराें और नर्सिंग स्टाफ के साथ सामंजस्य और समर्पण के कारण अच्छे अनुभव रहे।

जिला अस्पताल में उनकी विदाई के दाैरान डाॅ. प्रेम अराेड़ा, डाॅ. एसएम बत्तरा, डाॅ. प्रमाेद चाैधरी, डाॅ. पीपी अग्रवाल, डाॅ. केके जाखड़, डाॅ. आलाेक वर्मा, डाॅ. सुखपालसिंह, डाॅ. देवकांत, डाॅ. सुनीता गुप्ता, डाॅ. कृष्णा गेदर, डाॅ. साेनिया छाबड़ा, डाॅ. अनामिका सहित नर्सिंग स्टाफ माैजूद रहा।

खबरें और भी हैं...