पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sriganganagar
  • If The Refusal To Take The Dead Body, Then The Hands And Feet Of The Police Swelled, Then The Family Agreed On The Assurance Of The Arrest Of The Accused In Five Days, Removed The Picket

सादुलशहर मर्डर:शव लेने से किया इनकार तो फूले पुलिस के हाथ पांव, समझाइश की तो 5 दिन में आरोपियों की गिरफ्तारी के आश्वासन पर माने परिजन

श्रीगंगानगर (सादुलशहर)9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीगंगानगर जिले के सादुलशहर में हत्या के आरोपियों की  गिरफ्तारी  की मांग  पर धरने पर बैठे परिजनों  से वार्ता  करते  अधिकारी। - Dainik Bhaskar
श्रीगंगानगर जिले के सादुलशहर में हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर धरने पर बैठे परिजनों से वार्ता करते अधिकारी।

कस्बे के वार्ड उन्नीस में शनिवार रात मजदूर मानसिंह उर्फ माना की मौत के मामले में रविवार को भी मृतक के परिजनों और मोहल्लावासियों का धरना सरकारी अस्पताल परिसर में जारी रहा।

परिजन संदीप सिह, जग्गा सिह, बग्गा सिह, पार्षद पवन मेघवाल, पूर्व सरपंच पालाराम नायक, बार संघ के पूर्व अध्यक्ष धर्मेद्र शर्मा, ताराचंद सोनी, जसबिन्द्र सिंह, घनश्याम वाल्मीकि सहित कई लोग धरने पर डटे रहे। परिजनों ने पोस्टमार्टम करवाने और शव लेने से इनकार कर दिया। इस पर पुलिस के हाथ पांव फूल गए। बाद में पांच दिन में आरोपियों की गिरफ्तारी के आश्वासन पर परिजन माने और धरना हटा लिया।

छह के खिलाफ दर्ज हुआ मामला

मौके पर पहुंचे सीओ ग्रामीण भवंरलाल, तहसीलदार हरीश टाक, थानाधिकारी सतवीर मीणा ने समझाइश की। अंतत: परिजनों के धरना हटा लेने पर डॉक्टरों ने शव का पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस संबंध में छह आरोपियों राजेंद्र धाणक, विक्की, डीसी, कृष्ण, आकाश और रवि के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में एक व्यक्ति को शनिवार रात राउंडअप किया गया था।

शनिवार रात हुई थी मजूदर की हत्या

कस्बे के वार्ड उन्नीस के मजदूर मानसिंह उर्फ माना की हत्या शनिवार रात हुई थी। वह बस स्टैंड स्थित इंदिरा रसोई में खाना पैक करवाने गया था। वहां किसी बात को लेकर उसका राजेंद्र धाणक से विवाद हो गय। मानसिंह खाना पैक करवाकर घर लौटा ही था। इसी दौरान आरोपी पांच-सात अन्य लोगों के साथ उसके घर पहुंचा और मारपीट शुरू कर दी। इससे मानसिंह गंभीर घायल हो गया। अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

परिजनों ने किया था हंगामा
इसके बाद शनिवार रात ही परिजनों ने अस्पताल परिसर में हंगामा कर दिया। आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए इन लोगों ने धरना लगा दिया। पुलिस के समझाइश करने के बावजूद परिजन नहीं माने। रविवार को पांच दिन में आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन मिलने पर परिजन माने।

कंटेंट एवं फोटो : पवन शर्मा, सादुलशहर