पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई:सिहाग हॉस्पिटल के पास से 2013 में डाॅ. नवनीत व मनजीत निर्वाण की लूटी दो लग्जरी काराें का फरार आरोपी गिरफ्तार

श्रीगंगानगर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • फरवरी और मार्च 2013 में 35 दिनाें के अंतराल में दाे गाड़ियां एक ही जगह से लूटकर ले गई थी तरनतारन की यह गैंग

डकैती के दो प्रकरणों में 8 वर्षों से फरार उदघोषित अपराधी 52 वर्षीय गुरसेवकसिंह उर्फ बबला काे जवाहरनगर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आराेपी काे तरनतारन जिला जेल से प्राेडक्शन वारंट पर गिरफ्तार कर लाया गया है।

उसे गुरुवार सुबह अदालत में पेश किया जाएगा। एसपी राजन दुष्यंत ने बताया कि तरनतारन जिले के खालड़ा थाना क्षेत्र के गांव माडी कंबाेके निवासी गुरसेवकसिंह ने जवाहरनगर थाना क्षेत्र में सिहाग अस्पताल के सामने 12 फरवरी 2013 काे रिद्धि-सिद्धि निवासी मनजीतसिंह निर्वाण से उनकी लग्जरी गाड़ी स्काेडा लूटी थी और फिर फरार हाे गए थे।

आराेपियाें ने इस वारदात के ठीक 35 दिन बाद ही 20 मार्च 2013 काे सिहाग हाॅस्पिटल के पास ही जवाहरनगर सेक्टर 3 निवासी डाॅ. नवनीतसिंह से उनकी सन्नी निशान कार काे लूटकर ले गए थे। इस संबंध में जवाहरनगर थाना में दाे अलग-अलग मुकदमे दर्ज किए गए थे।

दाेनाें मुकदमाें में गुरसेवकसिंह मास्टर माइंड आराेपी है। आराेपी पर हत्या, लूट, डकैती, मादक पदार्थों की तस्करी जैसे गंभीर प्रकृति के पंजाब और राजस्थान व हरियाणा में अनेक प्रकरण दर्ज हैं। आराेपी वारदात के बाद से फरार था और उसकी तलाश में गंगानगर पुलिस ने कई बार दबिश दी।

अब जाकर आराेपी काे गिरफ्तार किया गया है। इस संबंध में एसएचओ फूलचंद शर्मा के निर्देशन में एएसआई कंवरपालसिंह, हैडकांस्टेबल अनिल कुमार, मनीराम व कांस्टेबल बलविन्द्र सिंह की टीम काे पंजाब भेजा गया था। वारदात में एक ओरापी गुरजंटसिंह उर्फ भाेलू निवासी पट्टी जिला तरनतारन अभी भी फरार चल रहा है। उसकाे भी गिरफ्तार करने के प्रयास जारी हैं।

गुरसेवक गांव में करवा रहा था पंचायती, गंगानगर पुलिस की सूचना पर छापा मारा व गिरफ्तार

पुलिस सूत्राें के अनुसार आराेपी पंजाब में हत्या के मामले में वांछित था और 19 जुलाई काे अपने गांव माडी कंबाेके में हत्या के ही मामले में वांछित आराेपियाें काे अपने घर शरण देकर पंचायती करवा रहा था। इस संबंध में गंगानगर पुलिस ने आराेपी के बारे में जानकारी जुटाकर तरनतारन पुलिस काे सूचित किया।

पंजाब पुलिस की टीम ने आराेपी के घर छापा मारकर न केवल आराेपी बल्कि पंजाब के हत्या के आराेप में वांछित आराेपी तथा गुरसेवक के घर से मादक पदार्थ भी बरामद किए गए। आराेपी बेहद शातिर दिमाग है और करीब 20 से अधिक मुकदमाें में तीनाें राज्याें में आराेपी है।

खबरें और भी हैं...