पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

लापरवाही:काेचिंग संस्थान बंद; बिजली उपभाेग 80 यूनिट, 4402 रुपए का बिल थमाया

श्रीगंगानगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • उपभाेक्ता बिजली बिल दुरुस्त करवाने के लिए डिस्काॅम अाॅफिस के चक्कर काट रहा है, लेकिन सुनवाई नहीं हाे रही

लाॅकडाउन के कारण स्कूल व काेचिंग संस्थान बंद हैं। इस कारण इन संस्थानाें का बिजली उपभाेग भी घटकर नाम मात्र का रह गया है। लेकिन डिस्काॅम अधिकारियाें की ओर से ऐसे उपभाेक्ताओं काे अधिक राशि के बिल थमाए जा रहे हैं। सहयाेग नगर में संचालित काेचिंग संस्थान इन दिनाें बंद है। बिजली उपभाेग दाे माह में मात्र 80 यूनिट हुआ है। इसके बावजूद डिस्काॅम की ओर से उग्रसेन नामक इस उपभाेक्ता काे 4402 रुपए का बिल थमाया गया है। व्यावसायिक बिजली कनेक्शन वाले अन्य उपभाेक्ताओं के साथ भी ऐसी ही समस्या है।

काेचिंग संस्थान संचालक ने बताया कि उसने अक्टूबर 2019 में आठ किलाेवाट का बिजली कनेक्शन लिया था। भवन में बिजली फिटिंग व अन्य काम नहीं हाेने के कारण यहां पर काेचिंग क्लासें शुरू नहीं हाे पाई। मार्च 2020 में लाॅकडाउन शुरू हाे गया। ऐसे में इस संस्थान में बिजली उपभाेग हर दाे माह में 100 यूनिट से कम रहा। इसके बावजूद डिस्काॅम की ओर से अधिक राशि के बिल थमाए जा रहे हैं।

पूर्व में बिजली बिलाें का भुगतान भी वह समय पर करता रहा है। बिजली बिलाें में स्थायी सेवा शुल्क के नाम पर डिस्काॅम की ओर से अधिक राशि की वसूली की जा रही है। प्रथम दाे बिलाें में 1520-1520 रूपए स्थायी सेवा शुल्क की वसूली की गई। तीसरे बिल में 1944 व चाैथे बिल में 2160 रुपए का स्थायी सेवा शुल्क लगाया गया।

अब हाल ही में जाे बिजली बिल उसे प्राप्त हुआ है वह 80 यूनिट बिजली उपभाेग का है। जिसका विद्युत खर्च 105.70 रुपए दर्शाया गया है, जबकि स्थाई सेवा शुल्क के रूप में 4320 रुपए लगाए गए हैं। अब यह उपभाेक्ता बिजली बिल दुरुस्त करवाने के लिए डिस्काॅम ऑफिस के चक्कर काट रहा है, लेकिन सुनवाई नहीं हाे रही है।

आटा चक्की संचालक के यहां बिजली खपत 3251 रुपए की, बिल 13156 रुपए

लालचंद की ढाणी निवासी राजेंद्र वर्मा ने 10 किलाेवाॅट आटे की की चक्की का कनेक्शन ले रखा है। इस उपभाेक्ता काे दाे माह का डिस्काॅम की ओर से बिजली बिल जारी किया गया है। इसमें बिजली उपभाेग 3251 रुपए है। इसके अलावा बिल में 2700 रुपए स्थायी सेवा शुल्क, 3241 रुपए अन्य चार्ज व 1215 रुपए निगम राशि लगाई गई है। इस उपभाेक्ता का आराेप है कि डिस्काॅम अधिकारी अन्य के नाम से लगाई गई राशि के बारे में उसे जानकारी नहीं दे रहे हैं कि यह राशि क्याें लगाई गई है।

यह है प्रावधान : व्यावसायिक कनेक्शन पांच किलाेवाट से अधिक पर 135 रुपए प्रति किलाेवाट पर माह वसूल किया जाएगा। यानी आठ किलाेवाट का बिजली कनेक्शन है तथा दाे माह से बिल आता है ताे प्रति किलाेवाट के हिसाब से 270 गुणा 8 यानी 2160 रुपए स्थायी सेवा शुल्क लगेगा।

  • लाॅकडाउन में स्थायी सेवा शुल्क कम लिया गया या फिर कई उपभाेक्ताओं का लिया ही नहीं गया। ऐसे में अंतर की राशि अब दाे बिलाें में वसूल की जा रही है। अन्य खर्च वाले मामले में फ्यूल सरचार्ज की राशि है।- वीआई परिहार, एक्सईएन सिटी, जाेधपुर डिस्काॅम

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें