शराब की अवैध बिक्री पर कार्रवाई:रात 8 बजे बाद शराब की दुकानें नहीं खुलेंगी, पुलिस गश्त और बढ़ेगी, कांस्टेबल घर-घर जा अब बाहरी लोगों का पता लगाएंगे

श्रीगंगानगरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • बढ़ती चोरियों व लूट की घटनाओं से पुलिस प्रशासन परेशान, एसपी ने बुलाई शहरी एसएचओ की बैठक

एसपी राजन दुष्यंत ने पुलिस लाइन में आयाेजित क्राइम मीटिंग में शहर की कानून व्यवस्था पर विस्तृत चर्चा की तथा सभी थाना प्रभारियाें काे निर्देश दिए कि अपने-अपने क्षेत्राधिकार में गश्त बढ़ाई जाए, आपराधिक प्रवृत्ति के लाेगाें पर निगरानी रखी जाए। वहीं, जुआ सट्टा, अवैध शराब एवं अवैध मादक पदार्थों पर रोक लगाने व सप्लाई करने वालाें के विरुद्ध प्रभावी कार्रवाई की जाए। एसपी ने कहा कि जुआ सट्टा, अवैध शराब एवं अवैध मादक पदार्थों पर रोक लगाएं, सप्लाई चेन पर प्रभावी कार्रवाई करें और निर्धारित समय 8 बजे के बाद शराब की दुकानें नहीं खुलने दें। अवैध बिक्री करने वाली ब्रांचों, ढाबों पर प्रभावी कार्रवाई की जाए। शहर में हो रही वाहन चोरी व छीनाझपटी की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए प्रभावी गश्त व्यवस्था सुनिश्चित की जाए, आवारा घूमने वालों, नशेड़ी प्रवृत्ति के व्यक्तियों, आदतन अपराधियों की गतिविधियों पर निगरानी रखी जाए।

मीटिंग में वृत्ताधिकारी शहर अरविन्द बेरड, पुलिस उप अधीक्षक एससी/ एसटी सेल ओमप्रकाश चौधरी, नरेंद्र पूनिया पुलिस उप अधीक्षक महिला अपराध एवं अन्वेषण सेल श्रीगंगानगर, शहर के समस्त थानाधिकारी, यातायात प्रभारी व अपराध सहायक ने भाग लिया।

ये निर्णय भी हुए... एक माह में पूरा होगा डोर-टू-डोर सर्वे, लोगों की मदद ले सीसीटीवी कैमरे लगवाएंगे, बिना हेलमेट वालों के चालान काटे जाएंगे

1. एसपी ने थानाधिकारियाें से कहा कि बीट कांस्टेबल से अपनी-अपनी बीट का डोर-टू-डोर सर्वे एक माह में पूर्ण करवाया जाए ताकि शहर में बाहर से आकर रुकने वाले अपराधियों की पहचान हो सके तथा इलाके में होटल, धर्मशालाओं आदि को नियमित रूप से चेक किया जाए। हाॅस्टलों व बाहर से आकर मकान किराए पर लेकर रहने वाले व्यक्तियों की तस्दीक की जाए, क्योंकि विशेषकर पंजाब, हरियाणा के आपराधिक तत्व यहां छिपते हैं। शहर में नियमित रूप से नाकाबंदी की जाए व गश्त व्यवस्था प्रभावी की जाए। रात्रि को शराब पीकर घूमने वालों व शराब पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

2. शहर में यातायात व्यवस्था सुधारने के लिए यातायात प्रभारी बिना नंबरी वाहनों के खिलाफ, बिना हेलमेट, बिना सीट बेल्ट, तेज गति व लापरवाही से वाहन चलाने वालों व यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। क्राइम मीटिंग में बताया गया कि थानों में बने स्वागत कक्षों में आमजन के लिए पर्याप्त सुविधा सुनिश्चित की जाए। शहर में लगे सीसीटीवी कैमरों को चालू स्थिति में रखे जाने के लिए सीसीटीवी कैमरों के मालिकों से संपर्क करें व लोगों को अधिक से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगवाने के लिए प्रोत्साहित किया जाए।

3. कमजोर वर्गों, महिलाओं, बच्चों तथा वृद्धजन के विरुद्ध होने वाले अपराधों में त्वरित व प्रभावी कार्रवाई, थानों में आने वाले परिवादियों की सुनवाई सुनिश्चित की जाए। पेंडिंग मुकदमों की समीक्षा कर योजनाबद्ध तरीके से निश्चित समय अवधि में निस्तारण करने तथा थानों में साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने के दिशा निर्देश दिए गए। आमजन से अपील की गई कि अवैध शराब, जुआ/ सट्टा, अवैध नशीले पदार्थ की बिक्री व अन्य कोई अवैध गतिविधि की जानकारी हो तो वे साेशल मीडिया नंबर:- 8104283691 (प्रभारी डीएसटी), 9530434097 (पुलिस कंट्रोल रूम), टेलीफोन नंबर:- 0154-2440190 (कार्यालय जिला पुलिस अधीक्षक कंट्रोल रूप) में सूचना दे सकते हैं।

खबरें और भी हैं...