पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

रक्षाबंधन:कई वर्ष पहले अपनाें से बिछड़े, महिलाएं, पुरुषाें काे राखी बांध मांग रही लंबी उम्र की दुआएं

श्रीगंगानगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • हरप्रभ आसरा आश्रम में जीवन बसर कर रहे इन प्रभुजनाें की आंखाें ने अब अपने सगे भाई-बहनाें का इंतजार करना छाेड़ दिया है

रक्षाबंधन पर साेमवार काे बहनें अपने भाइयाें की कलाई पर रेशम की डाेर बांधकर पवित्र रिश्ते की लंबी उम्र की कामना करेंगी। बदले में भाई इस स्नेह काे चिर स्थायी बनाने काे बहनाें काे बहुमुल्य उपहार देंगे। लेकिन दुनिया में कई ऐसे भाई और बहनें भी बहुत हैं जाे अपनाें से कई वर्ष पहले बिछड़ गए थे। दशकाें बाद भी खून के रिश्ताें के मेल नहीं हाे पाए।

ऐसे ही प्रभुजन श्रीगंगानगर जिले की रायसिंहनगर तहसील के 41 आरबी स्थित हर प्रभ आसरा आश्रम में खुशियां बिखेर रहे हैं। अपनाें से बिछड़े, मानसिक कमजाेर करीब 700 प्रभुजनाें का यह परिवार अपने आप में संसार है। यहां जीवन बसर कर रहे इन प्रभुजनाें की आंखाें ने अब अपने सगे भाई-बहनाें का इंतजार करना छाेड़ दिया है।

श्रीकरणपुर तहसील के गांव एक एन जगतेवाला निवासी सिंगर, डायरेक्टर, हाेस्ट और श्रीगंगानगर पर पहली डाॅक्युमेंट्री रचने वाले युवा किरदार हनी वी रविवार काे इन प्रभुजनाें के साथ त्याेहार की खुशियां साझा करने पहुंचे। आश्रम में रहने वाली 67 वर्षीय तुरबाई बताती हैं कि आश्रम में रहने वाले बुजुर्ग ही मेरे भाई हैं और इन्हीं को राखी बांधकर सगे भाई की कमी पूरी कर लेती हूं।

रायसिंहनगर तहसील के 41 आरबी स्थित आश्रम में अपनाें से बिछड़े, मानसिक कमजाेर करीब 700 प्रभुजनाें का है परिवार

तुरबाई की तरह कई बुजुर्ग महिलाएं ऐसी हैं जिनकी याददाश्त कमजोर हो गई है और उन्हें ये भी याद नहीं है कि उनका कोई सगा भाई है या नहीं। हरप्रभ आसरा आश्रम के संचालक हरिसिंह खालसा के मुताबिक यहां समाजसेवी संस्थाओं के लोग आते हैं जो बुजुर्गों के साथ मिलकर रक्षाबंधन का पर्व मनाते हैं। इसलिए यहां रह रहे हर विशिष्टजन के लिए हर त्याेहार ढेराें खुशियां लेकर आता है। आश्रम के सभी प्रभुजन इतने स्नेह से त्याेहार मनाते हैं जैसे उनकाे दुनिया भर की खुशियां मिल गई हाें।

काेराेनाकाल में भाइयाें तक बहनाें की राखियां पहुंचाने में जुटे श्रीगंगानगर डाक मंडल के 600 डाकिए

काेराेनाकाल में बहनाें का प्यार रखी के रूप में भाइयाें तक पहुंचाने की कड़ी में भारतीय डाक विभाग ने अपनी अनूठी पहल करते हुए रविवार काे अवकाश के दिन भी डाकियाें ने राखियाें के पार्सल वितरित किए। श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ में करीब 600 डाकिए भाइयाें तक बहनाें की राखियां पहुुंचाने में जुटे हुए हैं।

इस दाैरान डाकियाें द्वारा फिजिकल डिस्टेंसिंग व मास्क लगाने के नियम का पालन भी किया जा रहा है। इसके अलावा डाकियाें द्वारा स्वयं काे थाेड़ी-थाेड़ी देर में खुद काे सेनेटाइज किया जाता है। इसका मकसद खुद के साथ ही कस्टमर काे भी सुरक्षित रखना है।

सभी प्रधान डाकघर, उपडाकघर, तहसील, कस्बाें एवं ढाणियाें में पाेस्टमैन एवं ग्रामीण डाक सेवकाें की ओर से डाकाें का वितरण साेमवार काे भी किया जाएगा। डाक अधीक्षक देवीलाल सहारण ने बताया कि भारतीय डाक विभाग आमजन के हितार्थ सेवा देने काे तत्पर है। रक्षाबंधन पर विशेष व्यवस्था के तहत अवकाश के दिन भी राखी का शत प्रतिशत वितरण किया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें