निर्देश:कोरोना वायरस संक्रमण के प्रति अधिकारी विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए

श्रीगंगानगरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में मौसमी बीमारियों तथा अन्य विभागों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक मंगलवार को कलेक्ट्रेट मीटिंग हाॅल में आयोजित की गई। कलेक्टर महावीर प्रसाद वर्मा के कार्यभार ग्रहण करने के बाद यह पहली समीक्षा बैठक थी। वर्मा ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के लोक कल्याणकारी राज्य की अवधारणा के मजबूती से पालन व श्रीगंगानगर के प्रभारी मंत्री द्वारा पिछली तीन बैठकों में लिए गए निर्णयों का सभी अधिकारियों को अक्षरश: पालन करने के निर्देश दिए।

उन्हाेंने कहा कि सभी अधिकारी अपने-अपने विभाग की परिवेदनाओं को गंभीरता से सुनें। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण सभी अधिकारी प्रोटोकाॅल का पालन करें तथा इसके प्रति विशेष सतर्कता बरतें। कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को पीपीटी बनाकर सभी प्वाइंट्स पर कार्रवाई कर उन्हें अगली बैठक में प्रगति के संबंध में सूचित करने को कहा। कलेक्टर ने कोविड-19 से बचाव करने के संबंध में निर्देशित किया और  कहा कि जिला बहुत बड़ा है, यहां 20 लाख की जनसंख्या के मुकाबले केसेज की संख्या काफी कम रही है। अभी 17 केसेज एक्टिव हैं तथा हमारी कोशिश रहेगी कि मृत्युदर जीरो रहे, इसके लिए हरसंभव प्रयास किए जाएगे।

सीएमएचओ डाॅ. गिरधारी लाल मेहरड़ा ने बताया कि प्रत्येक गांव में स्वास्थ्य मित्र एक महिला व एक पुरुष होंगे। कलेक्टर ने सीएमएचओ तथा पीएमओ से कोरोना के संबंध में श्रीगंगानगर जिले में किए जा रहे सभी कार्यों की जानकारी ली और दिशा निर्देश दिए।

नगर परिषद आयुक्त प्रियंका बुडानिया से शहर में नालों की सफाई और पानी खड़े होने की समस्या पर जानकारी लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। शिक्षा विभाग, पीएचईडी, पीडब्ल्यूडी, सहकारिता, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य तथा अन्य सभी विभागों के अधिकारियों काे भी दिशा-निर्देश दिए। बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर सर्तकता अरविन्द जाखड़, नगर परिषद आयुक्त प्रियंका बुडानिया, पीएमओ डाॅ. केएस कामरा सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...