पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सुविधा:काेराेना डेडिकेटेड अस्पताल में बनेगा ऑपरेशन थियेटर व लेबर रूम, सामान्य सर्जरी होने लगी

श्रीगंगानगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
Advertisement
Advertisement

कोरोना संक्रमित रोगी को सर्जरी की जरूरत पड़ेगी तो उसे जिला अस्पताल परिसर में किसी तरह की दिक्कत नहीं आएगी। संक्रमित गर्भवती महिला का सामान्य व सिजेरियन प्रसव भी हो सकेगा। इसके लिए कोरोना डेडिकेटेड अस्पताल में ऑपरेशन थियेटर और लेबर रूम में बनाया जा रहा है।

जिला अस्पताल परिसर के पुराने भवन में सामान्य ओपीडी और आईपीडी शुरू होने के बाद अब ऑपरेशन थियेटर्स में एक सप्ताह से सर्जरी होने लगी है। अभी नेत्र रोग विभाग का ऑपरेशन थिएटर शुरू नहीं हुआ। कोरोना संक्रमण के लंबा खिंचने की वजह से अब इसके साथ-साथ जिला अस्पताल की सामान्य गतिविधियां चलेंगी।

जिला अस्पताल के पीएमओ डॉ. केएस कामरा के अनुसार नए एमसीएच भवन में चले रहे कोविड डेडिकेटेड अस्पताल के भूतल पर ऑपरेशन थिएटर और लेबर रूम निर्माणाधीन है, जो जल्द ही शुरू हो जाएगा। इससे अगर किसी कोरोना संक्रमित रोगी को सर्जरी की जरूरत होगी तो उसकी सर्जरी की सकेगी। इससे पहले ब्रह्म कॉलोनी में मिले हार्ट की तकलीफ झेल रहे कोरोना संक्रमित रोगी को विशेष ऑपरेशन थिएटर के अभाव में  पूर्व हुई सर्जरी के टांके खुलवाने पर बीकानेर रेफर किया गया था।

लेबर रूम में किसी संक्रमित महिला का प्रसव हो सकेगा। वर्तमान में कोरोना संक्रमित या फिर संदिग्ध रोगी महिला का प्रसव करवाने के लिए एक ओटी आरक्षित है। कोरोना डेडिकेटेड अस्पताल में अलग लेबर रूम होने से संक्रमण का खतरा नहीं रहेगा। 

अस्पताल में सामान्य मरीजों की सर्जरी से पूर्व कोरोना की जांच करवाई जा रही है। सर्जरी विभाग के एचओडी डॉ. सुखपाल सिंह बराड़ के अनुसार मरीज को कोरोना की दृष्टि से स्वास्थ जांच और सैंपल करवा कर भर्ती कर लिया जाता है। इसके बाद उसकी सर्जरी से संबंधित जांच करवा ली जाती हैं।

तब तक कोरोना सैंपल की जांच रिपोर्ट मिल जाती है। रिपोर्ट नेगेटिव आते ही सर्जरी कर दी जाती है। डॉ. बराड़ ने बताया कि कोरोना संक्रमण शुरू होने से 22 मार्च से सर्जरी बंद थी। अभी बहुत मरीज ही सर्जरी करवाने आ रहे हैं।

सामान्यतः मरीज जुलाई व अगस्त में बरसात का मौसम होने की वजह से सर्जरी नहीं करवाते। पिछले दिनों जिला अस्पताल में सामान्य ओपीडी व आईपीडी को पुराने भवन में शिफ्ट करने के बाद कलेक्टर ने सर्जरी केसेज शुरू करने के निर्देश दिए थे।

अभी तक नेत्र रोग विभाग का ऑपरेशन थियेटर शुरू नहीं हुआ है। स्वास्थ्य निदेशालय ने आंखों की सर्जरी पर रोक लगा रखी है। नेत्र रोग विभाग की एचओडी डॉ. सीमा राजवंशी के अनुसार उच्चाधिकारियों के निर्देश मिलने के बाद आंखों की सर्जरी शुरू कर दी जाएगी। अभी थोड़े दिन पूर्व ही नेत्र रोग विभाग का वार्ड व ओटी कोरोना मरीजों से मुक्त हुआ है।

ओटी में ऑक्सीजन व एयर की पाइप लाइन बिछाई जा रही है। इसके पूरा होने के बाद ओटी को संक्रमण रहित किया जाएगा। फिर स्वाब कल्चर टेस्टिंग करवाई जाएगी। राज्य सरकार की गाइड लाइन मिलते ही सर्जरी शुरू करवा दी जाएगी। अस्पताल में सप्ताह में दो दिन मंगलवार और गुरुवार को आंखों की सर्जरी के शिविर लगाए जाते थे। पहले एक शिविर में औसतन 30 से 40 रोगियों की सर्जरी की जाती थी।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज वित्तीय स्थिति में सुधार आएगा। कुछ नया शुरू करने के लिए समय बहुत अनुकूल है। आपकी मेहनत व प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। विवाह योग्य लोगों के लिए किसी अच्छे रिश्ते संबंधित बातचीत शुर...

और पढ़ें

Advertisement