पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आंदोलन:किसानों और मजदूरों की मांगों काे लेकर सीटू यूनियन ने कलेक्ट्रेट पर किया धरना-प्रदर्शन

श्रीगंगानगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • किसान-मजदूर विरोधी नीतियों के विरोध में देशव्यापी अभियान, 12 सूत्रीय मांगों काे लेकर राष्ट्रपति के नाम एसडीएम काे सौंपा ज्ञापन

किसान मजदूर विरोधी नीतियों के विरोध में देशव्यापी अभियान के तहत साेमवार काे भारतीय ट्रेड यूनियन सीटू की ओर से गुरुवार काे कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया गया। यूनियन की ओर से विभिन्न मांगाें काे लेकर राष्ट्रपति के नाम एसडीएम काे ज्ञापन साैंपा गया। जिला मुख्यालय पर सीटू श्रमिक संगठनों के मजदूर स्थानीय पब्लिक पार्क में एकत्रित हुए। यहां से जुलूस के रूप में सरकार विरोधी नारे लगाते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे तथा यहां सभा कर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। यहां पर हुई सभा को संबाेधित करते हुए सीटू के प्रदेश महामंत्री वीएस राणा ने केंद्र सरकार पर किसान विराेधी हाेने की बात कहते हुए कहा कि देश के करोड़ों मजदूरों ने श्रम कानूनों को लेबर कोड बिलों में बदले जाने के विरोध में 26 नवंबर 2020 को सफल देश व्यापी हड़ताल की।

अब देश का किसान तीनों कृषि कानूनाें को निरस्त करने की मांग को लेकर पिछले 43 दिनों से लाखों किसान राजधानी दिल्ली के चारों तरफ पड़ाव डालकर बैठे हैं। ये कानून लागू हाेने से व्यापारी व लाखों की संख्या में मजदूरों का रोजगार जाएगा और किसान पूरी तरह बर्बाद होगा। इस माैके पर सीटू के जिलाध्यक्ष मोहनलाल, महामंत्री हरकेवलदीप सिंह, सीटू के वरिष्ठ नेता भूरामल स्वामी, ट्रक-ट्राॅली लोडिंग-अनलोडिंग के अध्यक्ष प्रकाश राव, ट्राली यूनियन के प्रधान साधूराम, पतराम, रामस्वरूप, धानमंडी के प्र्रेम खन्ना, भोलू इंदोरा, दारा सिंह, रीको वेयर हाउस के रोशन सिंह, लोहा मंडी के अशोक कुमार, भवन निर्माण के लखविन्द्र सिंह, परमजीत कौर, ट्रांसपोर्ट के कालूराम, रेता बजरी यूनियन के हंसराज आदि ने विचार व्यक्त किए।

इसके बाद 12 सूत्रीय मांगाें काे लेकर राष्ट्रपति के नाम एसडीएम काे ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन में लेबर कोड कानून रद्द करने, किसान विरोधी तीनों कृषि कानून वापस लेने, न्यूनतम वेतन 26000 रुपए प्रतिमाह करने, मनरेगा के मजदूरों को 200 दिन काम 700 रुपए दिहाड़ी तय करने, रीको स्थित ग्वार गम फैक्ट्री के बकाया वेतन दिलाने सहित विभिन्न मांगें पूरी करने के लिए कहा गया है।

टिकरी बाॅर्डर पर 40 दिन से पड़ाव में शामिल श्रीगंगानगर के किसान नेता पृथीपालसिंह संधू बीमार, अस्पताल में भर्ती

कृषि जिंसाें की खरीद-फराेख्त संबंधी कृषि कानूनाें के विराेध में चल रहे किसान आंदाेलन के तहत किसान दिल्ली के टिकरी, संधू व शाहजहांपुर बाॅर्डर पर पड़ाव डाले बैठे हैं। कड़ाके की ठंड के कारण किसान बीमार भी हाे रहे हैं। इसके बावजूद किसानाें के हाैसले बुलंद है तथा किसान डटे हुए हैं। लाखाें की संख्या में पड़ाव डाले बैठे किसानाें का कहना है कि जब तक सरकार किसान विराेधी तीनाें कानून वापस नहीं लेती तब तक आंदाेलन जारी रहेगा। टिकरी बाॅर्डर पर चालीस दिनाें से पड़ाव डाले बैठे किसानाें में शामिल श्रीगंगानगर के किसान नेता पृथीपालसिंह सिंह संधू गुरुवार काे बीमार हाे गए जिन्हें नजदीक के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। डाॅक्टराें ने उन्हें आराम करने की सलाह दी है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें