माकपा जिला सम्मेलन में उठे कई प्रमुख मुद्दे:राज्य सचिव मंडल सदस्य डॉ. माधव बोले, कृषि  कानून लागू करने के पीछे भाजपा-कार्पोरेट का गठजोड़

श्रीगंगानगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रायसिंहनगर में पत्रकारों से बात करते राज्य सचिव मंडल सदस्य डॉ. संजय माधव और कालू थोरी। - Dainik Bhaskar
रायसिंहनगर में पत्रकारों से बात करते राज्य सचिव मंडल सदस्य डॉ. संजय माधव और कालू थोरी।

माकपा का जिला सम्मेलन बुधवार को रायसिंहनगर में हुआ। इसमें कई मुद्दों पर मंथन किया गया तथा जिला कमेटी का चुनाव भी हुआ। सम्मेलन के प्रभारी और राज्य सचिव मंडल सदस्य डॉ. संजय माधव ने कहा कि माकपा हमेशा किसानों के साथ संघर्ष के लिए तैयार है। जो कृषि कानून लागू किए गए हैं उनके पीछे भाजपा और कार्पोरेट का गठजोड़ जिम्मेदार है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व विधायक हेतराम बेनीवाल और जनवादी महिला समिति की दुर्गा स्वामी ने की। डॉ. माधव ने कहा कि दिल्ली के बॉर्डर पर बैठे किसानों के साथ माकपा हमेशा खड़ी रहेगी व जनता के दूसरे वर्गों को भी जोड़ने का काम करेगी। पार्टी प्रभारी व राज्य सचिव मंडल सदस्य रामेश्वर सिंह वर्मा ने कहा कि कोविड 19 संक्रमण व लॉकडाउन में लोगों की आय में गिरावट आई है लेकिन केंद्र सरकार की प्राथमिकताएं जीवन और जीविका के लिए खतरनाक साबित हो रही है। सम्मेलन में तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने, एमएसपी पर खरीद गारन्टी कानून बनाने, जिले की तीनों नहर परियोजनाओं में सिंचाई पानी शेयर मुताबिक उपलब्ध कराने, फ़िरोजपुर फीडर के पुनर्निर्माण, जिला मुख्यालय पर सरकारी मेडिकल कॉलेज व कृषि विश्वविद्यालय शुरू करने सहित कई प्रस्ताव रखे गए।

नई जिला कमेटी का हुआ चुनाव

जिला सम्मेलन में 17 सदस्यों की नई जिला कार्यकारणी का चुनाव सर्वसम्मति से करते हुए श्योपत मेघवाल को जिला सचिव चुना गया। वहीं 7 सदस्यों के सचिव मंडल का चुनाव किया गया। इसमें श्योपत मेघवाल, दुर्गा स्वामी, कालू थोरी, पालाराम, रविन्द्र तरखान, मास्टर केवल सिंह, पवन दुग्गल सदस्य बनाए गए।

जिला कमेटी सदस्य के रूप में ताराचंद सोनी, मोहनलाल, कृष्ण सहारण, मुकेश मोहनपुरिया, सुनील गोदारा, महेंद्र सिंह बुट्टर, मदन ओझा, हरि कृष्ण नायक, भवानी पंवार, विष्णु भांभू को चुना गया। विजय रेवाड़ व प्रकाश आमंत्रित सदस्य होंगे। पार्टी का राज्य सम्मेलन अक्टूबर में सीकर में प्रस्तावित है। इसमें शामिल होने के लिए 22 सदस्यों का चुनाव किया गया।

खबरें और भी हैं...