पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पायलट का जन्मदिन मनाया:सचिन पायलट के समर्थकों ने पौधे वितरित कर किया शक्ति प्रदर्शन

श्रीगंगानगर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।
  • सुखाड़िया सर्किल पर तीन घंटों में 2200 पौधे वितरित किए गए, रोड पर एक बार जाम लगा

पीसीसी के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री सचिन पायलट के जन्मदिन पर पायलट गुट के कांग्रेसियों ने सोमवार को पौधों का वितरण कर शक्ति प्रदर्शन किया। पायलट समर्थक जन्मदिन मनाने के लिए सोमवार शाम को जयपुर रवाना हो गए। मंगलवार को जयपुर सिविल लाइन में पायलट के जन्मदिन पर समर्थक राज्य स्तरीय आयोजन करेंगे।

श्रीगंगानगर शहर में सुखाड़िया सर्किल पर कांग्रेस के पूर्व जिला संगठन महासचिव कृष्ण भांभू और पूर्व महासचिव श्याम शेखावटी ने 2200 पौधों का वितरण कर पायलट के जन्मदिन के उपलक्ष्य में पौधरोपण अभियान की शुरुआत की। जिले के कई अन्य स्थानों पर भी पौधों का वितरण हुआ। हालांकि इन कार्यक्रमों से अशोक गहलोत समर्थकों ने पॉलिटिकल डिस्टेंसिंग बनाए रखी।

सुखाड़िया सर्किल पर वाहन चालकों व राहगीरों को रोक-रोककर फलदार व छायादार पौधे दिए गए। कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष संतोष कुमार सहारण, कृष्ण भांभू, श्याम शेखावटी, सीता स्वामी, अजय सहारण, उग्रसेन चौधरी, अलादित्ता खान, ललित बहल, पूर्व पार्षद सुरेंद्र स्वामी, मुरारीलाल सोनी आदि ने राहगीरों को पौधे देते हुए इनका रोपण कर पालन-पोषण करते हुए पर्यावरण संरक्षण का संकल्प भी दिलाया।

पूर्व संगठन महासचिव भांभू व शेखावटी के अनुसार सादुलशहर विधानसभा क्षेत्र में उनकी ओर से 6100 पौधे लगाए जाएंगे। कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष संतोष सहारण के नेतृत्व में डीएवी स्कूल में पौधरोपण किया गया।

सहारण के अनुसार सादुलशहर विधानसभा क्षेत्र में वे 3100 पौधे लगवाएंगे। कांग्रेस के पूर्व जिला प्रवक्ता जितेंद्र मोहन कामरा व पूर्व पार्षद सुरेंद्र स्वामी मंगलवार सुबह 9 बजे ब्रह्म कॉलोनी एवं वार्ड नंबर 27 में पौधरोपण होगा।

लोगों को फलदार पौधे दिए गए

सुखाड़िया सर्किल पर पौधा वितरण कार्यक्रम सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक तीन घंटे चला। इसी दौरान लोगों ने पौधे लेने के लिए वाहन रोके तो कई बार रोड जाम की स्थिति बनी। पुलिस ने जाम खुलवाया। कृष्ण भांभू के अनुसार पौधरोपण कर जिले को हराभरा बनाएंगे। इससे पर्यावरण संरक्षण होगा जो वर्तमान समय की जरूरत है। ज्यादातर लोगों को फलदार पौधे दिए गए हैं ताकि वे उनसे फल लेने के लिए संभालें।

पायलट को हटाने के बाद दिया था इस्तीफा : गत वर्ष जुलाई में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच राजनीतिक खींचतान हुई। तब पायलट को प्रदेशाध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री पद से हटाने पर जिला कांग्रेस कमेटी ने विरोध जताया था। जिलाध्यक्ष संतोष सहारण, महासचिव कृष्ण भांभू, श्याम शेखावटी व अन्य पदाधिकारियों ने इस्तीफा दे दिया था। गत वर्ष पायलट के जन्मदिन पर उनके समर्थकों ने जिला मुख्यालय पर रक्तदान किया था।

खबरें और भी हैं...