पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना ने छीनी मां:कोरोना संक्रमित 26 वर्षीय महिला ने डिलीवरी के बाद दम तोड़ा, बच्ची को निहार भी नहीं पाई, उसे जिंदगी दे खुद दुनिया को अलविदा कह गई

श्रीगंगानगर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 25 अप्रैल को करवाया था जिला अस्पताल में भर्ती, एहतियातन बच्ची को अलग रखा गया

कोरोना महामारी कितनी खतरनाक है यह मासूम बच्ची बयां भी नहीं कर सकती कि इस महामारी ने उसकी मां का आंचल जन्म होते ही उससे छीन लिया। वह अपनी मां को निहार भी नहीं पाई थी कि वह उसे जिंदगी देकर खुद दुनिया को अलविदा कह गई। जन्म देने से पहले मां पिछले पांच-छह दिनों से ऑक्सीजन स्पोर्ट पर थी और अब नवजात बच्ची जिला अस्पताल में ऑक्सीजन पर है।

कोरोना की भयावहता दर्शाती यह दर्दनाक कहानी उस अभागी बच्ची की है जोकि जिला अस्पताल की शिशु नर्सरी में भर्ती है। दरअसल, जंक्शन की एसडीएम कॉलोनी की रहने वाले ईशु पुरोहित की पत्नी साक्षी (26) को कोरोना संक्रमित होने पर 25 अप्रैल को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।

ऑक्सीजन सेच्युरेशन 85 से 87 होने पर उसे आईसीयू में भर्ती किया गया। इस बीच उसने वहां हो रही मौतों के बाद डॉक्टर से दूसरे वार्ड में शिफ्ट करने को कहा तो डॉक्टर ने दूसरे वार्ड में शिफ्ट कर दिया। मंगलवार सुबह 7 बजे प्रसव पीड़ा होने पर गायनोकॉलोजिस्ट डॉ. उर्मिला ने पोस्ट कोविड वार्ड में पहुंचकर पीपीई किट पहनकर सुरक्षित प्रसव करवाया। थोड़ी देर बाद ही प्रसूता ने दम तोड़ दिया।

इससे पहले नवजात बच्ची को एसएनसीयू(शिशु नर्सरी) में शिफ्ट किया गया। एहतियातन बच्ची को दूसरे बच्चों से अलग रखा गया है। गायनोकोलॉजिस्ट डॉ. उर्मिला ने बताया कि प्रसूता 8 माह 10 दिन की गर्भवती थी। एसएनसीयू प्रभारी डॉ. वेदपाल बिजारणियां ने बताया कि बच्ची का वजन कम होने से शारीरिक रूप से कमजोर है। पैदा होते ही सांस में दिक्कत होने पर उसे ऑक्सीजन पर रखा गया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आज की स्थिति कुछ अनुकूल रहेगी। संतान से संबंधित कोई शुभ सूचना मिलने से मन प्रसन्न रहेगा। धार्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करने से मानसिक शांति भी बनी रहेगी। नेगेटिव- धन संबंधी किसी भी प्रक...

    और पढ़ें