मौत:पुरानी आबादी थाने के एचएस कुलदीप का मल्टीपर्पज स्कूल की झाड़ियों में मिला शव, दाे दिन से गायब था

श्रीगंगानगर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पुरानी आबादी थाने के हिस्ट्रीशीटर 38 वर्षीय कुलदीप शर्मा का बुधवार सुबह मल्टीपर्पज स्कूल के पीछे झाड़ियाें में शव मिला है। पुरानी आबादी पुलिस ने माैके पर पहुंचकर शव काे कब्जे में लेकर जिला अस्पताल की माेर्चरी में रखवाया है। मृतक के भाई पुरानी आबादी निवासी संदीप शर्मा पुत्र राजेंद्र शर्मा ने उसकी हत्या की आशंका जताई है। उसकी रिपाेर्ट पर मर्ग दर्ज की गई है। पुलिस ने मेडिकल बाेर्ड गठित कर पाेस्टमार्टम करवाया है। वीडियाेग्राफी भी करवाई गई है। दाेपहर बाद शव परिजनाें काे साैंप दिया। उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया है। एसएचओं कश्यपसिंह ने बताया कि बुधवार सुबह किसी ने सूचना दी कि मल्टीपर्पज स्कूल के पीछे झाड़ियाें में एक अज्ञात व्यक्ति मृत पड़ा है। सूचना पर खुद वे पुलिस टीम के साथ माैके पर पहुंचे। मृतक की पहचान कुलदीप शर्मा के रूप में हुई। उसके परिवारजनाें काे माैके पर बुलाकर शव की शिनाख्त कर माैका दिखाया गया। सीओं सिटी अरविंद बैरड़ सूचना पर माैके पर पहुंचे। इसके बाद शव काे वीडियाेग्राफी करवाकर माेर्चरी में रखवाया गया। पाेस्टमार्टम करवाकर शव परिजनाें काे साैंप दिया गया है। मृतक के भाई की रिपाेर्ट पर संदिग्ध रूप से हुई माैत के कारणाें की वैज्ञानिक तरीके से जांच की जा रही है। सूचना पर आसपास के लाेग काफी संख्या में घटनास्थल पर पहुंच गए थे।

25 जून को सुखाड़िया नगर में अरुण जैन के घर फायरिंग करने वाली धोलू चौधरी गैंग से थे संबंध, तीन गुर्गों कोे हथियारों सहित इसके घर से पकड़ा था

अाराेपी कुलदीप शर्मा पुरानी आबादी थाना का हिस्ट्रीशीटर था। उसके खिलाफ जानलेवा हमला, हथियार रखने सहित गंभीर अपराध के 14 मुकदमे दर्ज हैं। आखिरी बार उसे हाल ही करीब दाे माह पहले गिरफ्तार किया गया था। उसके संबंध सुखाड़ियानगर में काराेबारी अरुण जैन के घर पर 25 जून काे फायरिंग करने वाली राममेहर उर्फ धाेलू चाैधरी की टीम के साथ थे। धाेलू द्वारा अरुण जैन के घर दाेबारा फायरिंग करने काे तीन गुर्गे पिस्टल व कुलदीप शर्मा सहित उसी के पुरानी आबादी थाना स्थित घर से गिरफ्तार किए थे। एसएचअाे कश्यपसिंह ने बताया कि कुलदीप हर तरह के नशे का आदी था। उसकाे नशा छाेड़ने काे श्रीकरणपुर राेड स्थित नशा मुक्ति केंद्र में भर्ती करवाया गया था। बाद में उसने उसी नशा मुक्ति केंद्र काे खरीद लिया। उसी दाैरान उसकी तीन ई छाेटी निवासी अजय अराेड़ा उर्फ भालू, जी ब्लाॅक निवासी निशांत बजाज और हिसार निवासी राममेहर उर्फ धाेलू चाैधरी से हुई थी। ये लाेग अकसर इसी नशा मुक्ति केंद्र में पार्टी किया करते थे। बाद में निशांत ने भालू के कहने पर इन सबके साथ मिलकर दाे कराेड़ की वसूली के लिए फायरिंग प्लान की थी।

एसएचअाे कश्यपसिंह ने बताया कि कुलदीप शर्मा का शव झाड़ियाें में काफी अागे जाकर लेटे हुए की पाेजीशन में पड़ा था। उसके परिवार की ओर से मंगलवार काे थाने में परिवाद देकर गुमशुदगी के बारे में बताया था। वह साेमवार शाम से अपनी बाइक सहित गायब था। घटनास्थल के पास ही उसकी बाइक भी बरामद हाे गई। मृतक का शव क्षत-विक्षत हाेने लगा था। इससे आशंका है कि उसकी मृत्यु साेमवार रात काे ही हाे गई थी। उसे कुछ लाेगाें ने साेमवार काे अाखिरी बार शराब के नशे में देखा भी था। अाशंका है कि नशे की अत्यधिक मात्रा के सेवन के कारण वह झाड़ियाें में ही लेटा हुअा रह गया अाैर ओवरडाेज के कारण उसकी मृत्यु हाे गई। वह सभी तरह के नशे करने का अादी बताया गया है।

भाई बाेला...कुलदीप की कईयों से दुश्मनी, हमें शक कि हत्या की गई

मृतक के भाई संदीप शर्मा ने पुलिस काे परिवाद देकर बताया है कि उसके भाई कुलदीप शर्मा के खिलाफ पुरानी अाबादी थाना में 14 मुकदमे दर्ज हैं। उसकी कई लाेगाें के साथ दुश्मनी चल रही थी। इसलिए परिवार काे अाशंका है कि उसकी हत्या कर शव झाड़ियाें में इस तरह से रखा गया है कि वह साेते हुए ही मर जाना दिखाई दे। पुलिस ने परिवार की अाेर से जताई गई आशंका की जांच काे डाॅक्टराें का बाेर्ड गठित कर पाेस्टमार्टम करवाया गया है। मामले की उसी एंगल अाैर गंभीरता से जांच की जा रही है।

खबरें और भी हैं...