पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sriganganagar
  • The Relatives Did Not Take The Dead Body First, Talks 3 Times, Removed The In charge Of The Station, Got 5 Lakh Compensation, Then The Funeral Was Done

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ढाबा संचालक की मौत का मामला:परिजनों ने पहले शव नहीं लिया, 3 बार वार्ता, थाना प्रभारी को हटाया, 5 लाख मुआवजे का मिला भरोसा, फिर हुआ अंतिम संस्कार

अनूपगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अनूपगढ़. अस्पताल के सामने कार्रवाई की मांग को लेकर धरना लगाकर बैठे प्रदर्शनकारी।
  • 22 को पेट्रोल डालकर ढाबा संचालक ने खुदकुशी का किया था प्रयास, 25 को मौत, 5 लोग कर रहे थे परेशान
  • धरना दे रहे प्रदर्शनकारियों ने गलत सूचना मिलने पर पिकअप को ईंटों से तोड़ा, चालक घायल

धान मंडी में बीकानेर रोड पर गुरुवार को अपने ऊपर पेट्रोल डालकर आग लगाने वाले ढाबा संचालक के शव को साेमवार सुबह परिजनों ने लेने से इनकार करते हुए राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सामने धरना लगा दिया।

ढाबा संचालक विनोद साहनी पुत्र मदन साहनी निवासी बिहार हाल निवास वार्ड नंबर एक अनूपगढ़ ने अपने पड़ाेसी ढाबा संचालक व अन्य द्वारा तंग परेशान करने के कारण 22 अक्टूबर को अपने ढाबे ही अपने शरीर पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली थी। जिसकी बीकानेर में उपचार के दौरान 25 अक्टूबर को सुबह माैत हो गई। जिसका बीकानेर में मेडिकल बाेर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर शव को रात्रि 11:30 बजे अनूपगढ़ लाकर अनूपगढ़ के राजकीय स्वास्थ केंद्र की माेर्चरी में रखा गया था।

इस मामले में सोमवार सुबह परिजनों ने शव को लेने के इनकार करते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सामने धरने पर बैठ गए। इस मामले में दोपहर बाद एसडीएम पवन कुमार और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुरेश के नेतृत्व में धरनार्थियों से वार्ता हुई। वार्ता में थानाधिकारी रामूराम मीणा को तुरंत प्रभाव से लाइन हाजिर करने, आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया तथा एसडीएम पवन कुमार ने नियमानुसार मुआवजा दिलाने की बात कही।

प्रदर्शनकारियों ने गलत सूचना मिलने पर पिकअप पर ईंटों से हमला कर उसमें तोड़फोड़ की।
प्रदर्शनकारियों ने गलत सूचना मिलने पर पिकअप पर ईंटों से हमला कर उसमें तोड़फोड़ की।

जिस पर धरनार्थी सहमत हुए। सहमति बनने के बाद धरनार्थियों ने अपने धरना समाप्त कर दिया और मृतक विनोद साहनी के शव को लेकर अन्तिम संस्कार कर दिया गया।

धरना स्थल पर 5 थानों की पुलिस लगाई, 3 दौर की वार्ता चली

पहली वार्ता: धरनार्थी अड़े रहे कि थाना प्रभारी को निलंबित करो
धरना स्थल पर 11:30 बजे हुई। इस वार्ता में एसडीएम ने आश्वासन दिया कि मुख्यमंत्री सहायता कोष से 5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने के लिए प्रस्ताव भेजा जाएगा, तुंरत प्रभाव से विधवा पेंशन शुरू करवा दी जाएगी और पालनहार योजना का लाभ दिला दिया जाएगा।

पुलिस उप अधीक्षक ताराराम ने कहा कि थानाधिकारी रामूराम मीणा के खिलाफ जांच कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी तथा दोषी पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी। धरनार्थी इस बात पर अड़े रहे कि जब तक थानाधिकारी को निलंबित नहीं किया जाता तब तक कोई समझौता नहीं होगा।

दूसरी वार्ता: धरनार्थियों की चेतावनी-मांगे नहीं मानी तो हम अनिश्चितकाल के लिए बाजार बंद करवाएंगे
अधिकारियों से साथ सामुदायिक स्वास्थ केंद्र में हुई परंतु थानाधिकारी के निलंबन की मांग को लेकर वार्ता पुन: विफल हो गई। दूसरे दौर के वार्ता विफल होने के बाद धरनार्थियों ने चेतावनी दी कि शीघ्र ही मांगे नहीं मानी गई, तो अनिश्चितकाल के लिए बाजार बंद करवाया जाएगा।

तीसरी वार्ता: थानाधिकारी को तुरंत लाइन हाजिर किया
3 बजे तीसरे दौर की वार्ता हुईं। इसमें अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुरेश कुमार भी शामिल हुए और उन्होंने थानाधिकारी रामूराम मीणा को तुरंत प्रभाव से लाइन हाजिर करने की बात कही। जिस पर धरनार्थी सहमत हो गए और वार्ता सफल होने के बाद धरना समाप्त कर शव को ले जाकर अंतिम संस्कार कर दिया। वार्ता में धरनार्थियों की तरफ से हेतराम सिंह सिंगाठिया, सतपाल मुंजाल, राजू डाल, पवन गोयर, निशा नागर, दीपक गोयल, मृतक के पिता मदन साहनी व उसकी बहन सहित अन्य ने भाग लिया।

पिकअप शव को लेकर आई तो लोगों ने कर दिया हमला, पुलिस ने समझाया तो शांत हुए
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सामने विनोद साहनी के परिजनों द्वारा दिए जा रहे धरने के दौरान बांडा कालोनी पुलिस चौकी द्वारा एक अज्ञात शव को पिकअप में लाया गया। यह शव पुलिस को नहर में मिला था। जिसे पहचान के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की माेर्चरी में रखने लिए पुलिस द्वारा लाया गया था। उसी माेर्चरी में विनोद साहनी का भी शव रखा हुआ था। पिकअप सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में सीधी घुसकर माेर्चरी में बैक लगा दी गई।

इसी दौरान किसी ने धरनार्थियों को कह किया कि पुलिस द्वारा विनोद साहनी के शव को पिकअप में डाल दिया गया है और पुलिस उसे ले जा रही है। इतना सुनते ही धरनार्थी गुस्सा गए और माेर्चरी के सामने खड़ी पिकअप को ईंटों और पत्थरों से बुरी तरह से दौड़ दिया। इस दौरान चालक भी अपनी सीट पर था। जिसने बड़ी मुश्किल से अपने जान बचाई।

इस दौरान चालक के भी चोटें आई। एक बार तो पुलिस और प्रशासन के भी समझ में नहीं आया कि अचानक क्या हो गया। परंतु उसके बाद पुलिस के अधिकारियों को स्थिति का पता लगा तो उन्होंनेे भीड़ को समझाया और परिजनों को विनोद साहनी का माेर्चरी में रखा हुआ शव दिखाया। जिसके बाद मामला वापस शांत हुआ।

और एक गिरफ्तार
मृतक के बयानों के आधार पर पुलिस द्वारा सोनू धानक, काका चलाना, शिबू धानक, मिनी नागपाल व पवन खटीक आरोपियों के खिलाफ धारा 327 व 143 आईपीसी में शनिवार को मुकदमा दर्ज किया गया था। जिससे में विनोद साहनी की मौत होने के बाद धारा 306 आईपीसी भी जोड़ दी गई। इस मामले में पुलिस ने सोनू धानक को राउंडअप कर लिया है।

इधर 90 जीबी निवासी पिकअप मालिक हेतराम ने करीब 100 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है। इस दौरान पुलिस उप अधीक्षक रायसिंहनगर सुरेश कुमार, रायसिंहनगर थानाधिकारी पुष्पेंद्र सिंह, रावला थानाधिकारी निकेत पारीक, घड़साना थाना अधिकारी धर्मपाल, प्रशिक्षु आरपीएस रोहिताश सांखला, जैतसर थाना प्रभारी मदनलाल, श्रीविजयनगर थाना प्रभारी रामेश्वरलाल को लगाया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें