पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इसलिए कहते हैं ‘लालच बुरी बला है’:26 फरवरी को करवाया था मुकदमा, अब मोबाइल कॉल से पकड़े गए

श्रीगंगानगर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अमेजन गिफ्ट के नाम पर 83 लाख ठगे, पति-पत्नी गिरफ्तार

ऑनलाइन कंपनी अमेजन के पे-गिफ्ट वाउचर के नाम पर एक फर्म के संचालक से करीब 80 लाख की धोखाधड़ी करने के आरोप में उत्तर प्रदेश मूल के एक दंपती को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। सदर बाजार की एक फर्म से धाेखाधड़ी के मामले में अर्चनासिंह उर्फ अंजलि (35) और उसके पति रोहितसिंह उर्फ हन्नी ठाकुर (38) को उत्तर प्रदेश के नोएडा, गौतमबुद्धनगर में नॉलेज पार्क पुलिस थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया है।

दंपती को शनिवार अदालत में पेश किया जाएगा। प्रारंभिक छानबीन में पता चला कि इस दंपती के विरुद्ध अन्य कई थानों में आपराधिक प्रकरण दर्ज हैं। दाेनाें आराेपियाें से ठगी की राशि बरामद करने के प्रयास किए जा रहे हैं। एसपी राजन दुष्यंत ने बताया कि कोतवाली में पिछले वर्ष फरवरी में सदर बाजार की फर्म श्री अंबे एंटरप्राइजेज के संचालक मनीष अग्रवाल ने इस दंपती के खिलाफ धाेखाधड़ी का मामला दर्ज किया था।

पुलिस ने अर्चनासिंह उर्फ अंजलि और उसके पति रोहितसिंह उर्फ हन्नी ठाकुर काे उत्तर प्रदेश के नोएडा, गौतमबुद्धनगर में नॉलेज पार्क पुलिस थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। यह दंपती वहां जेपी अमन सोसायटी सेक्टर नंबर 151 के एक फ्लैट में पहचान छिपाकर कर रह रहा था।

पहले विश्वास जमाया, फिर की ठगी: मनीष अग्रवाल ने 26 फरवरी 2020 को मुकदमा दर्ज करवाया था। एफअाईअार दंपती पर 80 लाख की धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया था। परिवादी के अनुसार दंपती ने पंजाब के मोहाली जिले में जीरकपुर में डंकोली एयरफोर्स एनक्लेव में ड्रीम्स कम ट्रू के नाम से एक फार्म खोली हुई थी। दंपती ने वर्ष 2019 में परिवादी से संपर्क कर बताया कि उसकी फर्म ने अमेजन से एग्रीमेंट किया है।

अमेजन के पे-गिफ्ट वाउचर ई-मित्र केंद्रों को बेचने से अच्छा मुनाफा होता है। इस पर मनीष ने पहली बार इस दंपती की फर्म को 14.62 लाख रुपए ऑनलाइन जमा करवाए। इस पर 15 लाख के पे गिफ्ट वाउचर ऑनलाइन भेजे गए। इस प्रकार अाराेपियाें ने विश्वास जमा लिया। इसके बाद परिवादी ने इस फर्म के बैंक खाते में 87 लाख रुपए जमा करवाए।

जिस पर 90 लाख के पर गिफ्ट वाउचर मिलने थे, जो कि नहीं दिए। उसके पीछे के हिसाब के भी 1.10 लाख रुपए बकाया थे। लगातार प्रयास करने पर दंपती ने 10 लाख रुपए उसे वापस कर दिए, लेकिन शेष 81 लाख रुपए नहीं दिए। मनीष अग्रवाल के अनुसार उसने अपने स्तर पर रोहित सिंह को उदयपुर में ढूंढा।

वह पीलीबंगा और श्रीकरणपुर के दो व्यक्तियों को साथ लेकर रोहित से मिला तो उसने 3 महीने में रकम वापस देने का भरोसा दिलाया। लेकिन रकम वापस नहीं की। दंपती गायब हो गया। एसपी ने बताया कि इस दंपती को पकड़ने के लिए एक टीम गठित की थी। टीम में शामिल साइबर सेल के हवलदार संजय भार्गव ने कई मोबाइल फोन नंबर की कॉल डिटेल खंगालते हुए लोकेशन ट्रेस की।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह गोचर और परिस्थितियां आपके लिए लाभ का मार्ग खोल रही हैं। सिर्फ अत्यधिक मेहनत और एकाग्रता की जरूरत है। आप अपनी योग्यता और काबिलियत के बल पर घर और समाज में संभावित स्थान प्राप्त करेंगे। ...

और पढ़ें