डीजल जैसे पदार्थ से भरा गोदाम पकड़ा:गोदाम मालिक के पास नहीं मिला कोई लाइसेंस, पूछताछ पर बोला बेचता हूं ट्रक चालकों को

​​​श्रीगंगानगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गांव उदयपुर गोदारान में डीजल जैसे पदार्थ से भरे ड्रम। - Dainik Bhaskar
गांव उदयपुर गोदारान में डीजल जैसे पदार्थ से भरे ड्रम।

रसद विभाग की टीम ने मंगलवार रात सूरतगढ़ इलाके के गांव उदयपुर गोदारान में डीजल जैसे पदार्थ का एक गोदाम पकड़ा। गोदाम मालिक ने यहां ड्रमों में बड़ी मात्रा में डीजल जैसा पदार्थ भर रखा है। पुलिस इस गोदाम तक मुखबिर की सूचना के जरिए पहुंची और बाद में रसद विभाग को बुलाकर कार्रवाई को अंजाम दिया गया।

टैंकर पकड़ने के बाद हुई कार्रवाई
पुलिस ने सोमवार को थर्मल टी प्वाइंट के पास एक टैंकर पकड़ा था। जांच में इस टैंकर के पास कोई व्यक्ति नहीं मिला। इस पर पुलिस ने इसकी सूचना डीएसओ राकेश सोनी को दी थी। सोनी ने इस टैंकर में से चार सैंपल लेने के बाद इसमें चार हजार लीटर डीजल जैसा पदार्थ होने की पुष्टि की थी। इस मामले में अभी सैंपल रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

टैंकर उदयपुर गोदारान जाने की मिली जानकारी
टैंकर मिलने के बाद पुलिस ने इस मामले में जांच की तो मुखबिर से इस टैंकर के उदयपुर गोदारान जाने और वहां खाली होने की जानकारी मिली। इस पर पुलिस ने उदयपुर गोदारान का रुख किया और वहां मौके पर पहुंचकर डीजल जैसे पदार्थ से भरा गोदाम ही पकड़ लिया। यह टैंकर इसी गोदाम में लाया जा रहा था। पुलिस को मौके से एक व्यक्ति मनोजकुमार मिला। उसने बताया कि वह यह पेट्रोल जैसा पदार्थ इस तरफ आने वाले ट्रक और अन्य वाहन चालकों को बेचता है। सस्ता होने के कारण वाहन चालक इसे खरीद लेते हैं तथा इससे उसे लाभ होता है।

पेट्रोल पंप की सुपुर्दगी में दिया
मौके पर पुलिस टीम ने इस गोदाम पर ताला लगा दिया तथा मामले की सूचना रसद विभाग को दी। जिला रसद अधिकारी राकेश सोनी और ईओ सुरेश कुमार मौके परपहुंचे और इस गोदाम में मिले पेट्रोल जैसे पदार्थ को पास के ही एक पेट्रोलपंप की सुपुर्दगी में दे दिए गए। इस मामले में लैब की रिपोर्ट के बाद मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई की जाएगी। मौके पर गैराज में 12 प्लास्टिक की टंकियों और 13 ड्रमों मे 30560 लीटर पेट्रोल जैसा पदार्थ मिला। गोदाम मालिक के पास इससे संबंधित कोई लाइसेंस नहीं मिला है।

खबरें और भी हैं...