चाइल्ड हेल्थ डवलपमेंट के लिए घर-घर पहुंची टीम:स्टेट लेवल से आए ट्रेंड  डॉक्टर कर रहे सुविधाओं का फिजिकल वेरिफिकेशन, सरकारी अस्पताल में देखी व्यवस्थाएं

श्रीगंगानगर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीगंगानगर में फिजिकल वेरिफिकेशन करती टीम। - Dainik Bhaskar
श्रीगंगानगर में फिजिकल वेरिफिकेशन करती टीम।

इन दिनों जिले में स्टेट गवर्नमेंट की एक टीम डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल सहित जिले के प्रमुख सरकारी अस्पतालों में चाइल्ड हेल्थ के लिए दी जा रही सुविधाओं का जायजा ले रही है। यह टीम सुविधाओं का जायजा लेने के साथ-साथ अधिकारियों और कर्मचारियों को यह भी बता रही है कि बच्चों की हेल्थ सुधारने के लिए क्या बेहतर उपाय किए जा सकते हैं। टीम ने शुक्रवार को सरकारी अस्पताल और शहर के कई इलाकों में घर-घर जाकर स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी ली।

टीम में यूनिसेफ रिप्रेजेंटेटिव भी शामिल
टीम में स्टेट लेवल से यूनिसेफ रिप्रेजेंटेटिव डॉ. हेमलता, ट्रेंड एनएचएम आशा प्रभारी अशोक यादव और नर्सिंग स्पेशलिस्ट बलवीर भांभू शामिल हैं। टीम यह जानकारी जुटा रही है कि जिले में नवजात के लिए बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिल रही है या नही। इसके अलावा चाइल्ड डेथ रेट में कमी, चाइल्ड न्यूट्रिशियन और बच्चों के लिए फ्री ट्रीटमेंट फैसेलिटी की जानकरी ली जा रही है।

कमी का कर रहे समाधान
टीम को कमी नजर आने पर जिला और स्टेट लेवल पर इसकी समीक्षा कर समाधान करवाया जाएगा। कहीं कर्मचारियों को ट्रेनिंग की जरूरत है तो वह भी दिलाई जाएगी। टीम ने शुक्रवार को सरकारी अस्पताल की व्यवस्थाएं देखीं। सीएमएचओ से मुलाकात की तथा इलाके घरों में जाकर लोगों से हेल्थ सुविधाओं के बारे में अपडेट लिया। टीम ने इससे पहले इलाके के चूनावढ़ सीएचसी, गजसिंहपुर, पदमपुर सीएचसी और पदमपुर के विभिन्न वार्डों का दौरा किया। सूरतगढ़, अनूपगढ़, घड़साना और कई अन्य इलाकों में टीम ने व्यवस्थाएं देखी।