सूरतगढ़ सबजेल के बंदी की हार्ट अटैक से मौत:एनडीपीएस के एक मामले में था जेल में बंद, हालत बिगड़ने पर भेजा अस्पताल

श्रीगंगानगर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सूरतगढ़ में मृतक बंदी के परिजनाें के बयान लेते अधिकारी। - Dainik Bhaskar
सूरतगढ़ में मृतक बंदी के परिजनाें के बयान लेते अधिकारी।

जिले के सूरतगढ़ उपखंड की सबजेल के विचाराधीन बंदी की मंगलवार को हार्ट अटैक से मौत हो गई। उसे दो साल पहले एनडीपीएस के एक मामले में गिरफ्तार किया गया था। उसके बाद वह जेल में था। सूरतगढ़ सबजेल के डिप्टी जेलर इंचार्ज नवनीतसिंह घोटिया ने बताया कि हनुमानगढ़ जिले के सलेमगढ़ मसानी निवासी बंदी भीम उर्फ चानण (35) पुत्र बनवारीलाल की मंगलवार सुबह करीब साढ़े दस बजे तबीयत बिगड़ी। इस पर जेलर घोटिया ने बंदी की हेल्थ की जानकारी ली। उसने एसिड बनने की शिकायत की। इस पर उसे हॉस्पिटल भिजवाया गया।

उन्होंने बताया कि बंदी भीम को सुबह जेल में ही पहला अटैक आ गया था, इससे उसकी हालत बिगड़ना शुरू हो गई। उसकी स्थिति को देखते हुए उसे उसी समय सूरतगढ़ के सरकारी अस्पताल भिजवा दिया गया। जहां डॉक्टरों ने उसका उपचार शुरू किया ही था कि इस दाैरान भीम को दोबारा अटैक आ गया और उसकी मौत हो गई।

वर्ष 2019 से था सबजेल में

बंदी भीम 3 अक्टूबर 2019 से सूरतगढ़ सबजेल में बंद था। उसे एनडीपीएस के एक मामले में पकड़ा गया था। डिप्टी जेलर घोटिया के अनुसार बंदी जेल परिसर में सबसे घुलमिल कर रहता था और किसी तरह के तनाव में नहीं था। उसे जेल के अच्छे कैदियों में शामिल किया जाता था। जेल में बागवानी सहित कुछ अन्य काम भी कर लेता था। उन्होंने बताया कि मृतक बंदी के परिजनों को घटना के ठीक बाद सूचित कर दिया गया। मौके पर पहुंचे परिजनों ने शव ले लिया है।

खबरें और भी हैं...