श्रीगंगानगर में बदला मौसम:सूरतगढ़ में आधा घंटा, सादुलशहर में बूंदाबांदी तो जैसतसर में एक घंटे बरसे बादल; किसानों के चेहरे खिले

श्रीगंगानगरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीगंगानगर के जैतसर में बरसात के बाद जमा पानी। - Dainik Bhaskar
श्रीगंगानगर के जैतसर में बरसात के बाद जमा पानी।

सावन पूरी तरह सूखा बीतने और भादो के पहले पखवाड़े में गर्मी रहने के बाद शुक्रवार को दिन कुछ राहत भरा रहा। जिले के सूरतगढ़ और आसपास के इलाके में करीब आधे घंटे तक वर्षा हुई वहीं सादुलशहर में बूंदाबांदी से मौसम सुहाना हो गया। सूतगढ़ के निकट जैतसर इलाके में करीब एक घंटे तक तेज बरसात के समाचार है। घड़साना में भी तेज बरसात से मौसम सुहाना हो गया।

इसके अलावा जिले के अधिकांश इलाके में मौसम गर्मी और उसम वाला बना रहा। जिले के रायसिंहनगर, अनूपगढ़ और रावला इलाकों में सुबह गर्मी और उमस का माहौल रहा। जिला मुख्यालय पर सुबह करीब आठ बजे से बादल छाने और हवा चलने से मौसम सुहाना हो गया।

श्रीगंगानगर में बूंदाबांदी
शहर में गुरुवार रात तक तेज गर्मी के बाद सुबह मौसम में बदलाव आया। सुबह करीब आठ बजे के आसपास आसमान में बादल छाने शुरू हो गए। सुबह दस बजे के आसपास हलकी आंधी चलने से गर्मी गायब हो गई तथा मौमस सुहाना हो गया। इसके बाद रुक-रुक कर बूंदाबांदी होती रही। इसके चलते सुबह तापमान में भी कमी आई। गुरुवार शाम साढ़े पांच बजे जहां अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस के आसपास था वहीं शुक्रवार सुबह साढ़े आठ बजे तापमान 28 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। तापमान में करीब पांच डिग्री सेल्सियस की कमी का असर जिला मुख्यालय पर दिखा।

सूरतगढ़ में बरसात से भीगा इलाका।
सूरतगढ़ में बरसात से भीगा इलाका।

सूरतगढ़ में आधे घंटे बरसात
जिले के सूरतगढ़ इलाके में सुबह करीब आठ बजे के आसपास बरसात शुरू हुई। इससे कई इलाकों में पानी भर गया। यहां बरसात से मौसम सुहाना हो गया। वहीं सूरतगढ़ के निकट जैतसर इलाके में सुबह दस बजे के बाद एक घंटे तक तेज बरसात हुई। घड़साना में भी तेज बरसात हुई जबकि जिले के रायसिंहनगर, रावला, अनूपगढ़ और आसपास के इलाके में अब भी गर्मी और उमस का असर बना हुआ है।

खबरें और भी हैं...