पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बाॅर्डर क्राॅस करने का नया तरीका:यह कैसी नाकाबंदी; श्रीगंगानगर से पैदल चल पंजाब में लोग कर रहे एंट्री, उसके बाद टेपों में बैठ घर पहुंच रहे

श्रीगंगानगर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सरकार ने पैदल आने जाने वालाें पर नहीं लगाई काेई पाबंदी, इनकी काेई स्क्रीनिंग भी नहीं की जा रही
  • राजस्थान-पंजाब बॉर्डर से भास्कर लाइव; बॉर्डर पर लगती है टेपों की कतारें
Advertisement
Advertisement

राजस्थान बाॅर्डर पर बाहर जाने काे की गई सख्ताई पर लाेगाें ने बीच का रास्ता निकाल लिया है। सरकार ने वाहनाें के बाहर जाने पर पाबंदी लगाई है, पैदल जाने वालाें पर नहीं। इसी बात का लाभ उठाकर अब बाॅर्डर पार करने के लिए नया तरीका अपनाया जा रहा है। पंजाब जाने वाले लाेग पंजाब सीमा साधुवाली चेक पाेस्ट तक टेंपाे से पहुंच रहे हैं। इसके बाद टेंपाे छाेड़कर पैदल ही पंजाब सीमा में प्रवेश कर रहे हैं। 

पंजाब पुलिस का नाका राजस्थान पुलिस के नाके से करीब 500 मीटर आगे है। लिहाजा वहां तक पैदल पहुंच रहे हैं। आगे फिर पंजाब के टेंपाे तैयार हैं जाे इसी तरह से सवारियाें काे ला और ले जा रहे हैं। मंगलवार काे दिनभर साधुवाली चेक पाेस्ट पर पैदल जाने वालाें की संख्या भी वाहनाें से जाने वालाें की संख्या के बराबर ही रही। क्याेंकि पैदल आने जाने पर काेई पाबंदी नहीं है और इनका डेटा भी नहीं पूछा जा रहा है, इसलिए बाॅर्डर पर इनकाे काेई कुछ नहीं पूछ रहा।

राजस्थान प्रशासनिक टीम व पुलिस लिंक नहर के पुल पर नाका लगाकर वाहनाें व सवार लाेगाें से पंजाब जाने काे पास चेक कर रहे हैं। लेकिन टेंपाे लिंक नहर के इस पार साधुवाली की तरफ ही खड़े हाे जाते हैं। श्रीगंगानगर से सवारियाें काे वहां ले जाकर उतार देते हैं। आते हुए पंजाब से श्रीगंगानगर आने वाली सवारियाें काे बैठाकर जिला मुख्यालय छाेड़ रहे हैं।

ई-पास नहीं ऑफलाइन पास से ही जारी रहेगी इंट्री, थानाें व एसडीएम कार्यालय में पास लेने वाले अधिक 

इस बार स्टेट बाॅर्डर पार करने काे जारी की गई पास की व्यवस्था में ई-पास सिस्टम शुरू नहीं हाेगा। इसलिए बाहर जाने वालाें काे नजदीक के थाने या एसडीएम कार्यालय में पास जारी करवाने काे पहुंचना पड़ रहा है। एसएचओ, वृताधिकारी, उपखंड अधिकारी, एसपी और कलेक्टर कार्यालय काे पास जारी करने की शक्तियां दी गई हैं। इसलिए पास जारी करवाने काे सर्वाधिक लाेग थानाें में ही चक्कर काट रहे हैं।

राजस्थान सीमा में लगाए गए नाके पर जानकारी प्रशासनिक टीम दर्ज कर रही है। नाके पर गिरदावर काे कार्यपालक मजिस्ट्रेट की शक्तियां देकर नाका अधिकारी लगाया गया है। उनके साथ दाे अन्य स्टाफ हर आने और जाने वाले वाहनाें की पूरी जानकारी व पास चेक करते हैं। इस पूरी प्रक्रिया के बाद गाड़ी सवार हर नागरिक का स्वास्थ्य विभाग की टीम स्वास्थ्य जांच कर नाम पता दर्ज करने के बाद पंजाब सीमा में जाने की अनुमति मिल रही है। 

इस प्रक्रिया में एक अादमी की जांच में दाे से तीन मिनट का समय लगता है। अगर एक कार में पांच सदस्य हैं ताे सभी की  जांच में 15 से 20 मिनट का समय लग जाता है। इस कारण वाहनाें की कतारें अब वापस लगने लगी हैं।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप अपनी रोजमर्रा की व्यस्त दिनचर्या में से कुछ समय सुकून और मौजमस्ती के लिए भी निकालेंगे। मित्रों व रिश्तेदारों के साथ समय व्यतीत होगा। घर की साज-सज्जा संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत हो...

और पढ़ें

Advertisement