पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मुद्दा-महंगाई व पूरा सिंचाई पानी:भाजपा प्रदर्शन करने पहुंची तो किसानों ने दिखाए काले झंडे, बोले-नाटक बंद करो

श्रीगंगानगर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • भाजपा, कांग्रेस, माकपा का कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन

गंगनहर में सिंचाई पानी की मांग काे लेकर आंदाेलनरत किसान कलेक्ट्रेट के आगे दाे दिन से धरना लगा रहे हैं और गुरुवार काे कलेक्ट्रेट का घेराव करेंगे। इसी मांग काे लेकर बुधवार काे भाजपाई राज्य सरकार के खिलाफ कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करने पहुंचे ताे वहां पहले से माैजूद किसानाें ने प्रदर्शनकारी भाजपाइयाें काे काले झंडे दिखाए तथा भाजपा मुर्दाबाद के नारे लगाए। इससे एक बार वहां तनाव का माहाैल बन गया। भाजपा कार्यकर्ता और पदाधिकारी सुबह पंचायती धर्मशाला में एकत्रित हुए और वहां से नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट के लिए रवाना हुए। भाजपाइयाें काे जुलूस के रूप में कलेक्ट्रेट की ओर आता देखकर धरने पर बैठे किसान हाथाें में काले झंडे लेकर महाराजा गंगासिंह चाैक पर आकर खड़े हाे गए और भाजपा मुर्दाबाद, नाटक करना बंद कराे, कृषि कानून वापस लाे के नारे लगाने शुरू कर दिए। इसके बाद भाजपाई कलेक्ट्रेट पहुंचे तथा राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए नहराें में पूरा पानी देने की मांग की।

सभा में प्रदेश मंत्री विजेंद्र पूनिया, पूर्व मंत्री सुरेंद्र पाल सिंह टीटी, किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष मनभीर सिंह रंधावा, जिला महामंत्री सरदूल सिंह कंग, एडवोकेट अविनाश डाबी व प्रदीप धेरड़ एडवोकेट, महिला मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष विनीता आहूजा, जिला उपाध्यक्ष सतपाल कासनिया, पूर्व विधायक शिमला बावरी, महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष चेष्टा सरदाना, ओबीसी मोर्चा जिलाध्यक्ष मनीराम स्वामी, युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष ईश्वजीत सिंह, श्रीविजयनगर चेयरमैन राजेंद्र लेघा, सादुलशहर चेयरमैन प्रतिनिधि प्रदीप खीचड़, पूर्व भाजयुमो जिला अध्यक्ष गुरवीर बराड़ व डॉ. बबीता गौड़ ने भी विचार रखे।

कांग्रेस सरकार से मांग; बिजली की बढ़ी दरें वापस लेने पेट्रोल/डीजल पर टैक्स पंजाब/हरियाणा के बराबर करो

प्रदर्शन के दाैरान सभा काे संबाेधित करते हुए भाजपा जिलाध्यक्ष आत्माराम तरड़ ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी हर कदम पर किसानों के साथ खड़ी है और हम गंगनहर व इंदिरा गांधी नहर परियोजना में पूरा पानी लेकर रहेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य की अशोक गहलोत सरकार अपने चुनावी घोषणा पत्र के अनुसार राजस्थान में बिजली की बढ़ी हुई दरों को तुरंत प्रभाव से वापस ले। विधायक रामप्रताप कासनिया ने कहा कि राजस्थान की यह पहली सरकार है जिसमें सिंचाई मंत्री को अब तक हमने विधानसभा में भी नहीं देखा है। रायसिंहनगर विधायक बलबीर सिंह लूथरा ने कहा कि सरकार को किसानों की चिंता नहीं है वरना खरीफ की बुवाई के समय किसानों को आंदोलन की राह पर नहीं चलना पड़ता। सभा को संबोधित करते हुए अनूपगढ़ विधायक संतोष बावरी ने नहरी पानी के साथ-साथ पेयजल समस्या को भी उठाया और राज्य सरकार से मांग की कि राज्य सरकार श्रीगंगानगर जिले के लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाए।

प्रतिनिधिमंडल ने गंगनहर के किसानों को उनके हिस्से का पूरा 2400 क्यूसेक पानी उपलब्ध करवाने, इंदिरा गांधी नहर के किसानों को तुरंत प्रभाव से सिंचाई पानी देने, जिले में लोगों की पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित कर शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाने, प्रदेश में बिजली की बढ़ी हुई दरें वापस लेने व राजस्थान में पेट्रोल/डीजल पर टैक्स सीमावर्ती राज्य पंजाब/हरियाणा के बराबर करने से संबंधित मांगों काे लेकर कलेक्टर काे मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन साैंपा।

भाजपाइयाें काे काले झंडे दिखाने वालाें में ये रहे शामिल : सिंचाई पानी के मुद्दे काे लेकर जुलूस के रूप में कलेक्ट्रेट पहुंचे भाजपाईयाें काे काले झंडे दिखाने वालाें में पूर्व विधायक हेतराम बेनीवाल, अमरसिंह बिश्नाेई, गुरलाल बराड़, केवल सिंह, गुरजीत सिंह मंगा, वकील सिंह बराड़ व जस्सासिंह सहित बड़ी संख्या में किसान शामिल थे।

महिला कांग्रेस: भाजपा को कोसा और महंगाई के लिए केंद्र को जिम्मेदार बताया

इलाके में सिंचाई पानी के मुख्य मुद्दे काे छाेड़कर महिला कांग्रेस ने बुधवार काे महंगाई के मुद्दे काे लेकर कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर केंद्र सरकार काे काेसा। प्रदर्शन के दाैरान संगठन की पदाधिकारियाें ने अपने संबाेधन में इलाके की मुख्य समस्या सिंचाई पानी पर बात नहीं की। प्रदर्शन से पूर्व केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ सेंट्रल जेल से गंगासिंह चौक तक जुलूस भी निकाला गया। कलेक्ट्रेट गेट के आगे प्रदर्शन स्थल पर हुई सभा काे संबाेधित करते हुए संगठन की जिलाध्यक्ष कमला बिश्नोई, पीसीसी सदस्य मनिंदर कौर नंदा एवं महिला कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष भूपेंद्र कौर टूरना ने विचार रखे। इस माैके पर देहात ब्लॉक अध्यक्ष शिवदयाल गुप्ता, जिला महासचिव जेपी श्रीवास्तव, जिला प्रवक्ता सोहनलाल सिंगठिया, जिला कांग्रेस संगठन महामंत्री भीमराज डाबी, बनवारी लाल बिश्नोई, पार्षद रमेश शर्मा, सोहन लाल नायक, प्रेम भाटिया, कार्तिक तिवाड़ी, साहिल वासन आदि ने भी महंगाई के खिलाफ केंद्र सरकार को काेसा। इस अवसर पर महिला कांग्रेस की प्रदेश सचिव कविता बंसल, सुखी देवी नायक, रेणु वर्मा, सरोज डालमिया, रजनी मारवाल, आशा खुराना, राधा देवी नायक, कविता बंसल, रजनी मारवाल, राधा देवी नायक, संतोष गहलोत आिद मौजूद थे।

सीटू: 12 सूत्री मांगों को लेकर प्रदर्शन, बोले-मजदूर आर-पार की लड़ाई लड़ेगा

डीजल-पेट्रोल, रसोई गैस के दामों में हो रही लगातार बढ़ोतरी, लेबर कोड बिलों द्वारा श्रम कानूनों में किए गए मजदूर विरोधी संशोधनों के खिलाफ सीटू के मजदूरो ने बुधवार काे कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया तथा 12 सूत्री मांगाें काे लेकर प्रधानमंत्री के नाम कलेक्टर काे ज्ञापन साैंपा। भारतीय ट्रेड यूनियन केंद्र सीटू के कार्यकर्ता सुबह पब्लिक पार्क में एकत्रित हुए। यहां से गाेल बाजार रेलवे स्टेशन रोड होते हुए केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। प्रदर्शन स्थल पर हुई सभा को संबाेधित करते हुए सीटू के प्रदेश महामंत्री कॉमरेड वीएस राणा, खेत मजदूरों के नेता कामरेड भूरामल स्वामी, जिलाध्यक्ष मोहनलाल, प्रकाश राव, साधुराम, दारा सिंह, शैलेंद्र भदोरिया, रेता यूनियन के हंसराज, सीडब्ल्यूसी के रोशन सिंह आदि ने कहा कि यदि मजदूर विरोधी कानून वापस नहीं हुए और महंगाई पर रोक नहीं लगाई गई तो आने वाले समय में देश का मजदूर वर्ग सड़काें पर उतरकर आर-पार की लड़ाई लड़ेगा। प्रदर्शन करने वालाें में बड़ी संख्या में सीटू से जुड़े मजदूर शामिल थे।

खबरें और भी हैं...