पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कार्रवाई :पहली किस्त लेते समय साथ था एसीटीओ, रू.10 हजार लेकर जेसीटीओ ने फोन पर बोला-सर, 10 हजार आ गए

श्रीगंगानगर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एसीबी के हाथाें 10 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार जेसीटीओ काे न्यायिक अभिरक्षा के आदेश
Advertisement
Advertisement

सेल्स टैक्स विभाग के अनूपगढ़ कार्यालय से 10 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार किए गए जेसीटीओ पवन आहूजा के साथ श्रीविजयनगर पदस्थापित एसीटीओ हिमांशु पारीक बराबर का भागीदार है। एसीबी के पास उसके खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं जिनके आधार पर उसे आराेपी माना गया है।

हालांकि जेसीटीओ पवन आहूजा काे रंगे हाथ गिरफ्तार करने के तुरंत बाद एसीबी टीम ने एसीटीओ काे भी गिरफ्तार करने काे विजयनगर स्थित उसके ऑफिस में छापेमारी की थी। लेकिन इस कार्रवाई का पता चल जाने के कारण एसीटीओ पारीक अपने ऑफिस से गायब हाे गया और फाेन भी बंद कर लिया। एसीबी श्रीगंगानगर टीम उसकी मंगलवार काे भी तलाश करती रही लेकिन वह कहीं नहीं मिला।

जांच अधिकारी सीआई आनंद गिल ने बताया कि श्रीविजयनगर निवासी दाता फर्नीचर हाउस के मालिक प्रेमकुमार ने एसीबी काे परिवाद देते हुए बताया कि एसीटीओ हिमांशु पारीक और जेसीटीओ पवन आहूजा उसके प्रतिष्ठान पर आए। तब इन दाेनाें ने ही परिवादी पर टैक्स चाेरी के आराेप लगाकर भारी जुर्माना कंपाउड करने काे लेकर डराया। तब परिवादी से दाेनाें ने मामला 25 हजार रुपए देकर रफा-दफा करने का ऑफर दिया।

इस पर परिवादी ने एसीबी काे शिकायत की। 26 जून काे परिवादी ने जेसीटीओ पवन आहूजा काे 15 हजार रुपए दिए। तब एसीटीओ हिमांशु पारीक भी माैके पर माैजूद था। एसीबी काे की गई शिकायत के सत्यापन, मांग के अलावा जब आराेपी जेसीटीओ काे रंगे हाथ पकड़ा गया तब उसने फाेन कर एसीटीओ काे बताया कि प्रेमकुमार रिश्वत के शेष 10 हजार रुपए लेकर आया है।

मैंने ले लिए हैं। इस पर एसीटीओ ने फाेन पर ही कहा था कि ठीक है। इस तरह इस मामले में एसीटीओ हिमांशु पारीक बराबर का भागीदार है और एसीबी के पास उसके खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं। उसे जल्दी ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

गिरफ्तार जेसीटीओ काे काेर्ट ने भेजा 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में

इधर साेमवार सुबह अनूपगढ़ स्थित सेल्स टैक्स विभाग के कार्यालय में 10 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार किए गए जेसीटीओ पवन आहूजा काे एसीबी टीम ने मंगलवार दाेपहर भ्रष्टाचार निराेधक मामलाें की विशेष अदालत में पेश किया। अदालत ने प्रकरण का निरीक्षण कर आराेपी जेसीटीओ काे 14 दिन की न्यायिक हिरासत के आदेश दिए।

आराेपी की तरफ से अधिवक्ता ने जमानत याचिका दायर की है। इस पर सुनवाई बुधवार काे रखी गई है। आराेपी काे एसीबी श्रीगंगानगर चाैकी पुलिस की ओर से काेविड जांच के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया। रिपाेर्ट आने के बाद उसे जेल दाखिल करवाया जाएगा।

फरार आराेपी एसीटीओ पारीक के चार बैंक खाते, दाे यूनियन बैंक और दाे एसबीआई में

इधर इसी मामले में फरार आराेपी एसीटीओ हिमांशु पारीक के घर सर्च करने गई एसीबी श्रीगंगानगर की दूसरी टीम के प्रभारी अधिकारी डीवाइएसपी वेदप्रकाश लखाेटिया के अनुसार आराेपी के घर से चार बैंक खाताें की पासबुकें मिली हैं। चाराें खाते आराेपी के नाम से हैं।

दाे खाते यूआईटी शाखा यूनियन बैंक और दाे यूआईटी शाखा एसबीआई में हैं। एसीबी ने चाराें खाताें की डिटेल उपलब्ध करवाने काे बैंक प्रबंधक काे पत्र लिखा है। इसके साथ ही आराेपी के बैंक खाताें के साथ लाॅकर की भी जानकारी मांगी गई है। संभावना है कि आराेपी के बैंकाें में लाॅकर भी हाे सकते हैं। अगर लाॅकर पाए गए ताे इनकाे खाेलने की कानूनी प्रक्रिया अपनाई जाएगी।

हिमांशु के घर सर्च में 7.35 लाख नकदी के अलावा मिले संपत्ति संबंधी दस्तावेज 
डीवाइएसपी वेदप्रकाश लखाेटिया ने बताया कि साेमवार शाम काे फरार आराेपी एसीटीओ हिमांशु पारीक के 89 लक्ष्मीनगर स्थित आवास पर सर्च ऑपरेशन के दाैरान 7.35 लाख रुपए नकदी भी बरामद की गई। इसके अलावा उसके घर पर अचल संपत्ति के भी दस्तावेज बरामद हुए हैं।

एसीबी नकदी और दस्तावेजाेंं की जांच कर रही है। इधर जेसीटीओ पवन आहूजा का घड़साना में निवास है। वह अपने तीन भाईयाें के साथ संयुक्त परिवार में रहता है। उसकी पत्नी सरकारी अध्यापक है। संयुक्त परिवार हाेने के कारण वहां पर सर्च ऑपरेशन नहीं किया गया।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज का दिन पारिवारिक और आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदायी है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति का अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ निश्चय से पूरा करने की क्षमत...

और पढ़ें

Advertisement