पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ज्ञापन:गैर-शैक्षिक कार्य करवाने और वेतन कटौती से आक्रोश शिक्षक संगठनों ने एसडीएम व सीबीईओ को सौंपे ज्ञापन

पीलीबंगा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान शिक्षक संघ (शेखावत) ने शिक्षकों को गैर शैक्षणिक कार्यों से मुक्त करने व वेतन कटौती आदेश वापस लेने की मांग करते हुए लालचंद झोरड़ के नेतृत्व में मुख्यमंत्री व शिक्षामंत्री के नाम के ज्ञापन एसडीएम व सीबीईओ को सौंपे। जिलामंत्री मनोहरलाल के अनुसार बीएलओ का कार्य केवल चुनाव से या मतदाता सूची से संबंधी होना चाहिए, परंतु फील्ड का हर कार्य उन्हें सौंपा जा रहा है। वहीं शिक्षकों व अन्य कार्मिकों की वेतन कटौती भी अव्यवहारिक व अन्यायिक है। संघ ने उनकी इन मांगों को नहीं माने जाने पर आंदोलन करने की चेतावनी भी दी है।

ज्ञापन सौंपने वालों में प्रांतीय प्रतिनिधि साहबराम भादू, नौरंग भारती, रजीराम गोदारा, जगनंदन सिंह, सुखविंद्र सिंह, रजीराम मेघवाल, प्रवीण पटीर, मोहन भादू, काशीराम, बलवीर सिंह शेखावत, सुरेश शर्मा आदि शामिल थे।

संगरिया| राजस्थान शिक्षक संघ शेखावत की अाेर से बुधवार को संघ अध्यक्ष सतीश चोपड़ा व पदाधिकारी जगदीश वर्मा के नेतृत्व में शिक्षामंत्री के नाम उपखंड अधिकारी को मांग पत्र सौंपकर समस्याओं के हल की मांग की गई। ज्ञापन में बताया गया कि शिक्षकों को गैर शैक्षणिक कार्य से मुक्त किया जाए। शिक्षक स्कूल में शिक्षण के साथ-साथ अन्य कार्य भी करता है, लेकिन शिक्षकों को चुनाव तथा अन्य कार्य में अधिकतर लगाया जा रहा है। 80% शिक्षक बीएलओ चुनाव कार्य में लगे हुए हैं। इन्हें अब वन नेशन-वन राशन कार्ड के तहत कार्य में भी लगाया जा रहा है।

संघ ने इसका कड़ा विरोध करते हुए संपूर्ण रूप से इस कार्य का बहिष्कार करने की चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि अगर शिक्षकों को इस कार्य से मुक्त नहीं किया गया, तो आंदोलन किया जाएगा। इस मौके पर दुलीचंद सुथार, अजय कुमार, सुभाष चंद्र, सुखराम, रविकांत, कुलदीपसिंह, रामेश्वरलाल, राजेंद्रकुमार, रितेश कुमार, मदनलाल, पंकज आदि शिक्षक मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...