सुरतगढ में तकनीकी कर्मचारियों का गतिरोध जारी:पांच दौर की वार्ता के बाद भी नहीं बनी सहमति, कर्मचारी की मौत के बाद सहायक अभियंता के निलंबन की कर रहे है मांग

सूरतगढ़2 दिन पहले

सूरतगढ़ के डिस्कॉम कार्यालय में तकनीकी कार्मिक की विद्युत करंट से हुई मौत के मामले में गुस्साए तकनीकी कर्मियों का धरना शनिवार को 24 घंटे बाद तक भी लगातार जारी रहा। इस दौरान कर्मचारी नेताओं और प्रशासन के बीच हुई कई दौर की वार्ताओं में भी कोई हल नहीं निकल सका।

कर्मचारियों की मांग है कि मामले में दोषी एईएन राजेश भूरिया को जहां सस्पेंड किया जाए। वहीं मृतक के आश्रितों को FRT कंपनी से मुआवजा और FRT कंपनी को ब्लैक लिस्ट किया जाए। मांगों को लेकर विधायक रामप्रताप कासनिया, पूर्व विधायक राजेंद्र भादू, इंटक के जिला अध्यक्ष श्यामसुंदर शर्मा और प्रशासन की ओर से एसडीएम कपिल कुमार यादव, डीएसपी शिवरतन गोदारा, डिस्कॉम के एसईवीआई परिहार और एक्सईएन अजय शर्मा के बीच आज शाम तक 5 दौर की वार्ता बेनतीजा रही।

डिस्कॉम के अधिकारी जहां एईएन राजेश भूरिया को एपीओ करने और जिला बदलने तक सहमत थे। वहीं तकनीकी कर्मचारी एईएन को सस्पेंड करने की मांग पर अड़े रहे। गौरतलब है कि विगत दिनों बरकत नामक तकनीकी कार्मिक फॉल्ट दुरुस्त करते करते समय विद्युत करंट की चपेट में आ जाने से घायल हो गया था, जिसकी शुक्रवार को इलाज के दौरान जयपुर के एक निजी अस्पताल में मौत हो गई थी।

खबरें और भी हैं...