इंदिरा रसोई का उद्घाटन:इंदिरा रसोई के उद्घाटन में राजनीति, पार्षदों ने किया बहिष्कार, कुछ लोग ही पहुंचे

मालपुरा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शिलालेख पर पालिकाध्यक्ष साेनिया के नाम पर विवाद

राजस्थान सरकार की महत्वपूर्ण इंदिरा रसोई योजना के रविवार को हुए लोकार्पण समारोह में शिलालेख पर पालिकाध्यक्ष सोनिया सोनी के नाम को लेकर उपजे विवाद के कारण ब्लॉक कांग्रेस कमेटी सहित पालिका पार्षदों ने कार्यक्रम का बहिष्कार कर दिया। खास बात यह है कि रसोई के लोकार्पण में भाजपा के पार्षद भी नहीं आए। जिससे मामला और अधिक गहराया। हालत यह रही कि एसडीएम रामकुमार वर्मा व ईओ देशराज मीणा ने पार्षद राकेश सैनी को बतौर अतिथि बना इंदिरा रसोई के लोकार्पण की खानापूर्ती कर दी गई। न्यायालय परिसर में निर्मित नए भवन में नई इंदिरा रसोई का शुभारंभ समारोह आयोजित किया गया। कार्यक्रम शुरू होने से पहले शिलालेख पर पालिकाध्यक्ष का नाम लिखने व नहीं लिखने को लेकर विवाद गहरा गया। हाईकोर्ट द्वारा पालिकाध्यक्ष सोनिया सोनी के निलंबन आदेश पर रोक लगाई गई है, लेकिन स्वायत्त शासन निदेशालय राजस्थान जयपुर द्वारा मालपुरा पालिका में अध्यक्ष पद के लिए विधिवत रूप से आदेश किसी के पक्ष में जारी नहीं किए। ऐसे हालत में पालिका के कार्यवाहक ईओ देशराज मीणा ने विभागीय उच्चाधिकारियों के निर्देशानुसार रसोई के शिलालेख पर अध्यक्ष का नाम नहीं लिखाया। इंदिरा रसोई में पालिका का नाम शिलालेख पर नहीं देख भाजपाइयों ने एसडीएम के समक्ष नाराजगी जताई और शिलालेख पर अध्यक्ष का नाम लिखवाने के लिए दबाब बनाया। एसडीएम रामकुमार वर्मा ने ईओ को शिलालेख पर सोनिया सोनी का नाम लिखने के निर्देश दिए। जिसके चलते शिलालेख पर पालिकाध्यक्ष का नाम लिख दिया गया। कांग्रेस समर्थक पार्षद एडवोकेट अतीक हसन ने बताया कि बगैर अधिकार प्राप्त किए ही नाम लिखने के विरोध में कांग्रेस पार्षदों ने कार्यक्रम का कर बहिष्कार किया है। ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष रामदेव बैरवा ने बताया कि एसडीएम रामकुमार वर्मा द्वारा सरकारी योजनाओं में मनमर्जी व कांग्रेस संगठन के कार्यकर्ता पदाधिकारियों के साथ भेदभाव पूर्व व्यवहार किया जा रहा है तथा कांग्रेस सरकार में भाजपा समर्थकों प्राथमिकता देने से कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रोष जताया। ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष रामदेव बैरवा ने आरोप लगाया कि रोजगार गारंटी योजना के कार्यक्रम में कांग्रेस प्रतिनिधियों को नहीं बुलाया, ग्रामीण ओलंपिक खेलों के कार्यक्रम में कांग्रेस कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों व जनप्रतिनिधियों की अनदेखी की तथा अब इंदिरा रसोई के लोकार्पण समारोह में भी पालिका ईओ पर दबाव बना कर शिलालेख पर जबरन सोनिया सोनी का नाम लिखाया गया। इस संबंध में एसडीएम रामकुमार वर्मा से बातचीत करने का प्रयास किया गया लेकिन करीब साढे 5 बजे उनका फोन स्विच ऑफ होने से संपर्क नहीं हुआ।

खबरें और भी हैं...