शादीशुदा युवती को किडनैप कर किया गैंगरेप:1 महीने तक बंधक बनाकर रखा, 13 लोगों के खिलाफ केस दर्ज

टोंकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने पीड़िता के पिता की रिपोर्ट पर केस दर्ज कर लिया है और मामले की जांच में जुटी है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने पीड़िता के पिता की रिपोर्ट पर केस दर्ज कर लिया है और मामले की जांच में जुटी है।

टोंक जिले के सोप थाने में करीब 1 महीने पहले दर्ज हुए युवती के गुमशुदगी के मामले में नया मोड़ आया है। पीड़िता के पिता ने 13 लोगों के खिलाफ अपनी बेटी का किडनैप कर गैंगरेप करने का केस दर्ज कराया है। आरोपी शादीशुदा पीड़िता को उठाकर ले गए और धुंआकला में एक घर में बंधक बनाकर दुष्कर्म किया। मामले की जांच उनियारा डीएसपी शकील अहमद कर रहे हैं।

डीएसपी शकील अहमद ने बताया कि 18 सितंबर को सोप थाने में एक पिता ने अपनी शादीशुदा बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दी थी। उन्होंने बताया था कि 16 सितंबर को सुबह 4 बजे उठा तो उसकी बेटी घर में नहीं मिली। इस पर उन्होंने आसपास तलाश की लेकिन उसकी कोई जानकारी नहीं मिली। पुलिस ने पीड़ित की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। इस दौरान घाड़ पुलिस ने युवती को डिटेन कर परिजनों को सौंप दिया। उस दौरान परिजनों ने कोई दूसरी रिपोर्ट नहीं दी थी। बेटी के आपबीती बताने के बाद के पीड़ित पिता ने 19 अक्टूबर को उनियारा कोर्ट में इस्तगासा से पेश किया है।

डीएसपी ने बताया कि इस्तगासे में पीड़ित पिता ने बताया कि उसकी बेटी 16 सितंबर को सुबह करीब 4 बजे घर से बाहर निकली थी। उस दौरान पहले से ही घर के बाहर खड़े 7-8 लोग उसका मुंह बंद कर कार में किडनैप कर धुंआकला गांव ले गए। आरोपियों ने उसे नशीला पदार्थ खिलाकर बनवारी जाट के मकान में बंधक बनाकर रखा और कई दिनों तक दुष्कर्म किया। इस्तगासे में उसने बताया कि आरोपियों ने उसकी बेटी को जान से मारने और अन्य जगह बेचने की भी कोशिश की। उसने 18 सितंबर को गुमशुदगी की रिपोर्ट दी थी, जिसके 2-3 बाद ही पीड़िता का उसकी भाभी के पास फोन आया। उसने बताया कि कुछ लोग उसका किडनैप कर ले गए हैं और उसके साथ दुष्कर्म कर रहे हैं। आरोपियों ने मेरे बाल काट दिए हैं और मारपीट कर रहे हैं। आरोपी मुझे जान से मारने की कोशिश कर रहे हैं। इनमें से किसी के मोबाइल से कॉल कर रही हूं।

पीड़िता के पिता ने बताया कि बेटी का फोन आने के बाद उसने थाने में सूचना दी। 12 अक्टूबर को घाड़ थाना से फोन आया कि उसकी बेटी को डिटेन कर लिया है। इस पर वह थाने पहुंचा तो उसकी बेटी गुमशुम नजर आई। इसके बाद वह उसे घर ले गए, जहां उसकी बेटी ने बताया कि उसके साथ 7-8 लोगों ने कई बार दुष्कर्म किया। डीएसपी ने बताया कि पीड़िता के पिता ने सोप के इब्राहिम नगर निवासी रामदेव पुत्र रामनारायण जाट, शंकर पुत्र रामकरण, हरीराम पुत्र रामलाल, धनराज पुत्र रामकरण, निरमा पत्नी रामअवतार, साडा थाना बनेठा निवासी धनराज पुत्र लड्डु लाल, महेंद्र पुत्र हरिनारायण, महेंद्र पुत्र सूरजमल, घाड़ थाना क्षेत्र के धुंआकला निवासी बनवारीलाल पुत्र लड्डु लाल जाट, अलीगढ़ थाना क्षेत्र के नाहरी निवासी रामस्वरूप पुत्र माधो, पीपलू थाना क्षेत्र के चौगल निवासी शकंरलाल, सोप के रामदयाल और डिग्गी थाना क्षेत्र के धोली निवासी कालू पुत्र हीरालाल के खिलाफ किडनैप और गैंगरेप करने का मामला दर्ज कराया है।

अपने पीहर आई हुई थी शादीशुदा युवती
उनियारा डीएसपी शकील अहमद ने बताया कि गुरुवार को ही इस मामले की फाइल मेरे पास आई है। पीड़िता के पिता ने 13 आरोपियों के खिलाफ उसकी बेटी का किडनैप कर गैंगरेप करने का केस दर्ज कराया है। इसकी निष्पक्ष जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। पीड़िता शादीशुदा है और वह अपने पीहर आई हुई थी।

इनपुट-: सुरेश नागर, सोप