6 घंटे तक गीली मिट्टी में धंसे रहे 2 ट्रक:गाड़ी को साइड देने के लिए रोड से नीचे उतरे, लोगों को हुई परेशानी

टोंक4 महीने पहले
सड़क को चौड़ा करने का काम चल रहा है। इसके लिए ठेकेदार ने किनारे पर मिट्टी डाली थी, जो बारिश से गीली हो गई थी।

टोंक जिले के सोप कस्बे के पास सामने से आए वाहन को साइड देते समय 2 ट्रक रोड से नीचे उतर गए। इस दौरान उनके एक ओर के पहिए बरसात से गीली जमीन में धंस गए। इस दौरान कोशिश करने के बाद ट्रक मिट्टी से बाहर नहीं निकल पाया। इसके बाद उसमें भरे लहसुन और कीटनाशक पाउडर के पैकेट्स को नीचे उतारा और दूसरी गाड़ी से खींचकर बाहर निकाला। इस दौरान वहां से निकलने वाले दूसरे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। करीब 6 घंटे बाद रोड पर ट्रैफिक सुचारू हुआ।

जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री ने बजट घोषणा में आमली से सुरेली तक सड़क को 33 फीट चौड़ा करने की घोषणा की थी। इसमें सोम-आमली, अलीगढ़-खोहल्या, सुरेली रेलवे स्टेशन तक 45 किलोमीटर तक की सड़क पर 40 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इसमें मेजर रिपेयरिंग और 27.30 किलोमीटर की नई डामरीकरण व सीसी सड़क का निर्माण काम भी होगा। आमली से सोप कस्बे के बीच रोड को चौड़ा करने के लिए जेसीबी से सड़क के दोनों तरफ खुदाई की जा रही है।मनोहरपुरा के पास ठेकेदार ने सड़क पर मिट्टी की मोटी परत बिछाने के बाद उस पर रोलर नहीं चलवाया। इतने दिन सड़क पर मिट्टी उड़ने के कारण लोग परेशान थे। 3-4 दिन पहले हुई बारिश से ये मिट्टी गीली हो गई थी। मंगलवार सुबह इन्द्रगढ़ की ओर से आ रहे 2 ट्रकों के ड्राइवर ने सामने वाले वाहन को साइड देने के लिए ट्रक के एक तरफ के पहिए नीचे उतारे तो गीली मिट्टी में पहिए धंस गए। इस दौरान लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

इनपुट-: सुरेश धाकड़, सोप