सऊदी अरब में टोंक का सोहन लाल भी बंधक:अस्पताल में भर्ती, परिजनों ने लगाई घर वापसी की गुहार

टोंकएक महीने पहले
सऊदी अरब के यंबू शहर में टोंक के एक श्रमिक सोहनलाल को भी बंधक बनाया गया है। वह अस्पताल में भर्ती है। - Dainik Bhaskar
सऊदी अरब के यंबू शहर में टोंक के एक श्रमिक सोहनलाल को भी बंधक बनाया गया है। वह अस्पताल में भर्ती है।

सऊदी अरब के यंबू शहर में टोंक के एक श्रमिक समेत 25 भारतीय नागरिकों और दस 10 अन्य श्रमिकों को बंधक बनाया गया है। टोंक के सोहनलाल की बंधक बनाने के बाद तबीयत बिगड़ी हुई है। कई दिनों तक उसकी तबीयत बिगड़ने पर उसे कंपनी ने अस्पताल में भर्ती नहीं कराया था लेकिन अब हालत गंभीर होने पर उसे सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस मामले में कलेक्टर चिन्मयी गोपाल का कहना है कि यह मामला उनकी जानकारी में अभी आया है। प्रशासन सोहनलाल के इलाज के बेहतर प्रबंध और उसकी वतन वापसी की पूरी कोशिश करेगा।

घर जाने की मांग की तो बंधक बनाया
सऊदी अरब की अलजहरानी कंपनी ने इन सभी लोगों के वीजा रिनुअल नहीं करवाया। सभी का सऊदी अरब में रहने का वैध दस्तावेज इकामा समाप्त करवा दिया। कंपनी ने षडयंत्र पूर्वक इस तरह से 25 भारतीयों सहित इन सभी 35 लोगों को सउदी अरब में अवैध नागरिक बना दिया। अवैध नागरिक होने के बाद इन सभी से पिछले दो वर्ष से अधिक समय से बंधुआ मजदूर बनाकर काम करवाया जा रहा था। कुछ दिनों पहले इन्होंने वीजा रिनुअल करवाकर इकामा बनवाने व परिवार के पास स्वदेश भेजने की मांग रखी तो कंपनी ने इन सभी 35 लोगो को जबरन बंधक बना लिया। भारतीय नागरिकों में राजस्थान, बिहार,दिल्ली उत्तरप्रदेश सहित कई प्रदेशों के रहने वाले लोग शामिल हैं।

अस्पताल में भर्ती है टोंक का सोहन लाल
कांग्रेस नेता चर्मेश शर्मा की मदद से सऊदी अरब से लौटे भरतपुर के श्रमिक विश्राम जाटव और बूंदी जिले के नैनवा निवासी अब्दुल गफ्फार ने टोंक के श्रमिक सोहन लाल बैरवा को लेकर भी जानकारी दी। इसके बाद चर्मेश शर्मा ने वहां के अस्पताल में भर्ती टोंक के श्रमिक सोहनलाल बैरवा से बात करने की कोशिश की, लेकिन तबीयत ज्यादा खराब होने से वह बोलने की स्थिति में नहीं है।

16 मई को थी बेटे की शादी
सोहन लाल के परिवार में उसकी पत्नी काली देवी और दो बेटे लोकेश (24) और राहुल(17) हैं। उसके एक बेटी भी है। सोहन लाल की पत्नी ने बताया कि वे पिछले 4 साल से सऊदी अरब में है। कंपनी ने उन्हे बंधक बना रखा है। इसके चलते वे बड़े बेटे लोकेश की शादी में 16 मई को भी नहीं आ पाए थे।

राष्ट्रपति से लगाई गुहार
कांग्रेस नेता चर्मेश शर्मा ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के नाम राष्ट्रपति सचिवालय में याचिका दायर कर और विदेश मंत्रालय में विदेश मंत्री एस जयशंकर के नाम शिकायत दर्ज करवाकर भारत सरकार से सभी भारतीय नागरिकों की वतन वापसी और टोंक निवासी गंभीर बीमार सोहनलाल का जीवन बचाने की मांग की है।

परिजनों ने की जल्द घर वापसी की मांग
सोहन लाल की पत्नी, दोनों बेटे और बेटी के साथ ही सभी परिजनों ने जल्द घर वापसी की मांग की है। इसके अलावा बैरवा समाज के अध्यक्ष एडवोकेट मूलचंद बैरवा ने भी कलेक्टर से मांग कर सोहन लाल की जल्द घर वापसी की मांग की है।

कलेक्टर ने दिया घर वापसी का भरोसा
टोंक कलेक्टर ने इस मामले में भास्कर को बताया कि सऊदी अरब में भारतीय दूतावास में उनकी बेचमेट अफसर हैं। उन्होंने पूरे मामले में उनसे जानकारी ली है। उन्होंने कहा कि पूरी कोशिश की जा रही है कि सोहन लाल की जल्द से जल्द घर वापसी हो।